nabha-jail-brake-geeta_1480345120

देहरादून | रविवार को पंजाब की सबसे सुरक्षित जेल माने जाने वाली नाभा जेल से छह आतंकियों के फरार होने के बाद देश भर में उनकी तलाश की जा रही है. इन्ही में से फरार एक आतंकी हरमिंदर सिंह मिंटू दिल्ली के निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार कर लिया गया है लेकिन बाकी आतंकी अभी भी फरार है. इन आतंकियों में कश्मीर सिंह और विक्की गौड़ प्रमुख है. अब इन आतंकियों के फरार होने के तार देहरादून से भी जुड़ रहे है.

मिली जानकारी के अनुसार उत्तर प्रदेश के शामली से गिरफ्तार हुए परमिंदर सिंह ने पूछताछ में बताया की इस घटना के तार देहरादून से जुड़े हुए है. परमिंदर का मित्र सुनील देहरादून में रहता है. परमिंदर पिछले कई महीनो से सुनील के पास आ रहा था. यही पर परमिंदर ने सुनील के साथ मिलकर नाभा जेल ब्रेक की योजना बनायी. परमिंदर सिंह को इस पूरी घटना का मास्टरमाइंड बताया जा रहा है. परमिंदर सिंह के इनपुट पर देहरादून के प्रेमनगर से दो लोगो को गिरफ्तार किया गया है.

मामले की सूचना मिलने पर देहरादून पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए प्रेमनगर इलाके में सुनील के घर छापा मारा. जब तक पुलिस यहाँ पहुंची सुनील फरार हो चुका है लेकिन पुलिस ने उनकी पत्नी गीता और नौकर बिन्नी को गिरफ्तार कर लिया . पूछताछ में गीता ने कबूल किया है की नाभा जेल से आतंकियों को फरार कराने की योजना उन्ही की घर पर बनी थी. पुलिस ने मीडिया को बताया की सुनील के घर से कुछ संदिग्ध चीजे भी मिली है.

सुनील के घर से कुछ बिना प्रिंट हुए आधार कार्ड, आईडी कार्ड की प्लास्टिक , फर्जी सिम, मोबाइल फ़ोन और बम और हथियार बनाने की सामग्री बरामद हुई है. मालूम हो की रविवार सुबह 8 बजे 5 लोग नाभा जेल पर हमला करते है और अपने दो साथियो को छुड़ा ले जाते है. इस दौरान जेल से चार और कैदी भाग निकलने में सफल होते है. घटना के तीन दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस के हाथ केवल हरमिंदर सिंह ही लगा है. बाकी अभी भी फरार है


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें