झारखंड के रामगढ़ में कथित बीफ ले जाने के आरोप में भगवा कार्यकर्ताओं द्वारा की गई अलीमुद्दीन नाम के शख्स की हत्या के मामले में पुलिस अब तक किसी भी हत्यारे को गिरफ्तार नहीं कर पाई है.

अलीमुद्दीन की हत्या के बाद से ही पुरे इलाके में तनाव है. साथ ही सांप्रदायिक झडपों की भी खबर है. ऐसे में पुरे इलाके में धारा 144 (निषेधाज्ञा) लागू कर दी गई है. रामगढ़ की डिप्युटी कमिश्नर राजेश्वरी विनय ने आज बताया कि रामगढ़ के सब मजिस्ट्रेट की रिपोर्ट के आधार पर जिले के सभी 6 ब्लॉक में आज धारा 144 लागू कर दी गई.

और पढ़े -   गोरखपुर मामले में एक पिता का दर्द - स्वास्थ्य मंत्री के खिलाफ पुलिस ने नहीं की शिकायत दर्ज

इस बीच आईजी मुरारी लाल मीणा ने आज रामगढ़ क्षेत्र का दौरा किया. उन्होंने बताया कि स्थिति तनावपूर्ण लेकिन नियंत्रण में है और शांतिपूर्ण स्थिति कायम रखने के लिए बड़ी संख्या में सुरक्षा बलों की तैनाती की गई है.

गौरतलब है कि वैन में मांस ले जाने का आरोप लगाकर एक कोयला व्यापारी पर शुक्रवार को रामगढ़ में 30 से 40 बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने हमला बोल दिया था जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया और बाद में इलाज के दौरान उसकी अस्पताल में मौत हो गई.

और पढ़े -   आज़ादी के 70 साल बाद भी जातिवाद, ऊंच-नीच, भ्रष्टाचार से आज़ादी की ज़रूरत : फैसल लाला

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE