ayu

गौरक्षा के नाम पर मुस्लिम समुदाय के लोगों पर अत्याचार का सिलसिला रुक नहीं रहा हैं. इसी कड़ी में मंगलवार को अहमदाबाद में गौरक्षकों ने 29 वर्षीय मोहम्मद अयूब की बेदर्दी से पिटाई की थी जिसके बाद उसकी शुक्रवार को मौत हो गई.

दरअसल मोहम्मद अयूब मंगलवार को अपने दोस्त के साथ एक गाय और बछड़े को लेकर जा रहे थे इस दौरान उन पर गौरक्षकों ने हमला कर दिया. उनका दोस्त समीर तो भागने में कामयाब रहा लेकिन अयूब को गौरक्षकों ने पकड़ लिया और बुरी तरह से पीटा.

आनंदनगर थाने के प्रभारी पी बी राणा ने कहा, ‘‘अयूब का वाहन 13 सितंबर की रात को एसजी हाईवे पर दुर्घटनाग्रस्त हो गया. जब वहां खड़े कुछ लोगों ने वाहन देखा तो उन्होंने उसमें एक बछड़ा और एक बैल मिला. हादसे में बछड़ा मर गया और बैल को बचा लिया गया.

बाद में तीन गोरक्षकों ने मोहम्मद अयूब और समीर शेख के खिलाफ जानवरों की गैरकानूनी तस्करी के लिए पुलिस में शिकायत भी दर्ज कराई. अयूब के परिवार का आरोप है कि गो-तस्करी की शिकायत दर्ज कराने वाले तीनों लोग भी उसे पीटने वाले लोगों में शामिल थे, लेकिन पुलिस का कहना है कि इस तरह का कोई सबूत नहीं है कि वे लोग वारदात के समय मौके पर मौजूद थे.

अयूब के चाचा रोजर खान ने कहा, ‘शिकायत दर्ज कराकर उन लोगों ने साबित कर दिया है कि वे लोग घटनास्थल पर मौजूद थे. अगर अयूब और शेख जानवरों की तस्करी कर भी रहे थे, तो भी उन लोगों को कानून हाथ में लेने का अधिकार नहीं है.’


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें