अयोध्या में बाबरी मस्जिद को शहीद किये जाने के मामले में आरोपी बीजेपी के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी, उमा भारती और मुरली मनोहर जोशी सीबीआई की स्पेशल कोर्ट से बड़ी राहत मिली है. कोर्ट ने तीनों को रोज होने वाली सुनवाई में उपस्थित न होने की छूट दी है.

इस मामलें में आडवाणी, जोशी, उमा भारती, विनय कटियार, महंत राम विलास वेदांती, चंपत राय समेत 12 लोग सीबीआई की विशेष अदालत में पेश हुए थे. कोर्ट बाबरी मस्जिद शहादत मामले से जुड़े 2 अलग-अलग मामलों की सुनवाई कर रही है.

इन सभी नेताओं की तरफ से सीबीआई की विशेष कोर्ट में रोज हाजिरी से छूट की अर्जी दाखिल की गई थी, जिसमें लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी को उनकी उम्र देखते हुए अदालत ने छूट दे दी. वहीं उमा भारती चूंकि केंद्र सरकार में मंत्री हैं, इस लिए अदालत ने उन्हें रोज हाजिरी से छूट दी है.

इस मामले में सभी 12 आरोपियों के खिलाफ धारा 120बी (आपराधिक षडयंत्र), धारा 153 (दंगे के लिए उकसाना), धारा 153ए (नफरत फैलाना), धारा 295 (धार्मिक स्‍थल को क्षति पहुंचाना), धारा 295ए (धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाना), व धारा 505 के तहत मुकदमा चल रहा है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE