कहने को तो हम 21 वी सदी में जी रहे है लेकिन हम आदिम युग में पहुँचते जा रहे है. दिन-प्रतिदिन हम इंसानियत भूलते जा रहे है. नही हमे कोई नैतिकता बची है. नहीं कोई शिष्टाचार. किसी की मदद क्या होती है. ये तो अब हम बोझ समझने लगे है. चाहे किसी की जान ही क्यों न चली जाए.

ताजा मामला महाराष्ट्र के पुणे का है. जहाँ एक आईटी इंजीनियर का एक्सीडेंट हो गया. लेकिन सडक पर मौजूद सेल्फीवीरों ने उसे अस्पताल पहुंचाना भी मुनासिब नहीं समझा बल्कि उसके तड़पते हुए वीडियो बनाते रहे. खून से लथपथ सतीश ने सड़क पर ही दम तोड़ दिया. सतीश पेशे से एक इंजिनियर है और वह ऑफिस से लौट रहे थे.

और पढ़े -   गोरखपुर हादसे को लेकर एएमयू में मुख्यमंत्री योगी का पुतला फूंका

हालांकि इस दौरान डॉ कीर्तिराज नाम के एक दातों के डॉक्टर ने देखा की कोई शख्स सड़क पर तड़प रहा है. जिसके बाद बे सतीश को अस्पताल लेकर पहुंचे. लेकिन डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया. इस बीच इस सतीश की मौत की तस्वीरें और वीडियो देश भर के कई मोबाइलों में शेयर हो चुकी थीं.

अब सोचने का मुकाम है कि 5000 साल की संस्कृति का दम भरने वाले हम भारत को विश्वगुरु बनाने का स्वप्न तो देखते है. लेकिन हम खुद दिन-प्रतिदिन जानवर से बदतर बनते जा रहे उसका क्या ? एक बार सोचकर देखना जरुर.

और पढ़े -   बिहार: सामने आया 700 करोड़ का एनजीओ घोटाला, लालू ने बीजेपी नेताओ पर उठाई उंगली

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE