गुलबर्ग सोसायटी केस के नंबर वन आरोपी ने किया सरेंडर

गुजरात में साल 2002 में गुलबर्ग सोसायटी नरसंहार मामले में फरार आरोपी ने आज शेष एसआईटी अदालत के सामने सरेंडर कर दिया। कैलाश धोबी गुलबर्ग सोसायटी मामले में हत्या और अन्य जघन्य अपराधों के लिए दोषी ठहराये गया था. इस मामले में एसआईटी ने कैलाश धोबी को आरोपी नंबर एक बनाया है।

कैलाश धोबी को पिछले साल दिसंबर में अदालत ने अस्थायी जमानत दी थी जिसकी अवधि समाप्त होने के बाद से वो फरार था। विशेष लोक अभियोजक आर सी कोडेकर ने बताया कि जमानत अवधि समाप्त होने के बाद से कैलाश धोबी गिरफ्तारी से बच रहा था। आरोपी नंबर एक के रूप में उसका नाम दर्ज है और उसे हत्या और आन्य आरोपों में दोषी ठहराया गया है। आज उसने विशेष एसआईटी जज पी बी देसाई के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया। अदालत ने दोषी को न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

और पढ़े -   रमजान की आमद पर सिख और हिंदू भाइयों का तोहफा, मुस्लिमों को बना कर दी मस्जिद

साल 2002 के इस मामले में पूर्व कांग्रेस सांसद एहसान जाफरी समेत 69 लोगों की मौत हो गयी थी। इस मामले में एसआईटी अदालत दोषी ठहराये गये 24 लोगों को 17 जून को सजा सुनायेगा।


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE