नई दिल्ली : दुष्कर्म के आरोप में जेल में बंद आसाराम बापू की जमानत अर्जी जोधपुर की सेशन जज ने खारिज कर दी। आसाराम बापू की ओर से उनके वकील और जाने-माने नेता सुब्रहमणियम स्वामी ने अदातल के सामने बहस की। लगभग आधे घण्टे बहस के बाद अदालत ने कहा कि मामले की गंभीरता और पृष्ठभूमि को देखते हुए आरोपी को फिल्हाल जमानत देना उचित नहीं है।

और पढ़े -   जीएसटी पर मोदी की तारीफ करना पत्रकार को महंगा पड़ा, व्यापारियों ने जमकर पीटा

आसाराम बापू के वकीलों ने कहा है कि अभी दरवाजे बंद नहीं हुए हैं। आसाराम की आयु और उनके व्यवहार को देखते हुए जेल में रखना उचित नहीं है। वो निचली अदालत के फैसले को जल्दी ही उच्चन्यायालय में चुनौती देंगे। साभार: न्यूज़ 24


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE