उत्‍तरप्रदेश में ट्रेन हादसों का सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा है. सोनभद्र में गुरुवार सुबह बड़ा रेल हादसा पेश आया है. हावड़ा से जबलपुर जा रही शक्तिपुंज एक्सप्रेस के 7 डिब्बे पटरी से उतर गए.

हादसा सुबह 6 बजे ओबरा डैम स्टेशन से 25 मीटर पेश आया. यह इलाका उत्तर प्रदेश और मध्यप्रदेश के बॉर्डर पर लगा हुआ है. हादसे की मुख्य वजह टूटी हुई पटरी है. हादसे में 12 से 15 लोग जख्मी हुए हैं. ओबरा डैम स्टेशन मैनेजजर का कहना है कि ट्रेन स्टेशन से छूटी ही थी इसलिए रफ्तार बहुत कम थी, अगर रफ्तार ज्यादा होती तो बड़ा हादसा हो सकता था.

और पढ़े -   मदरसे के पानी में जहर मिलाने की घटना थी पूर्व नियोजित: सलमा अंसारी

ध्यान रहे 20 दिनों में यूपी में हुआ ये तीसरा रेल हादसा है. इससे पहले उत्तर प्रदेश में 19 अगस्त को मुज़फ्फरनगर के खतौली के पास बड़ा रेल हादसा हुआ था. कलिंग उत्कल एक्सप्रेस की 14 बोगियां पटरी से उतर गई थीं. इस हादसे में 23 लोगों की मौत हो गई जबकि दर्जनों अन्‍य घायल हो गए थे.

वहीं खतौली हादसे के पांच दिनों के भीतर 23 अगस्त को दूसरा हादसा हुआ था, जब आजमगढ़ से दिल्ली आ रही 12225 (अप) कैफियत एक्सप्रेस औरैया के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गई थी.

और पढ़े -   पूर्व कांस्टेबल अब्दुल क़दीर का हुआ निधन, दंगाईयों का साथ देने वाले वरिष्ठ अधिकारी की ली थी जान

इसके अलावा महाराष्ट्र के टिटवाला में भी रेल हादसा हुआ था. नागपुर-मुंबई दुरंतो एक्सप्रेस के नौ डिब्बे पटरी से उतर गए थे. इस ट्रेन में कुल 18 डिब्बे थे. यह दुर्घटना उस समय हुई जब अधिकतर यात्री सो रहे थे.

गौरतलब है कि पीयूष गोयल के रेल मंत्री का पद संभालने के बाद यह पहला रेल हादसा है. पिछले कुछ दिनों में हुई लगातार रेल दुर्घटनाओं से चिंतित होकर सुरेश प्रभु ने रेल मंत्री के पद से इस्तीफा दे दिया था.

और पढ़े -   बीजेपी महिला नेता ने मुस्लिम लड़के के साथ दिखने पर हिन्दू लड़की को पीटा

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE