तस्वीर में नज़र आ रहे शख्स का नाम शेख युनुस पाशा मियां है। यह पानगांव (ज़िला लातुर) पोलिस चौकी मे ए.एस.आई है।

कल सुबह ९ बजे के करीब शेख युनूस पाशामियां पानगांव पाेलिस चाैकी में शिव जयंती बंदोबस्त कि याेजना बना रहे थे तभी वहां पर बीजेपी एवं शिवसेना के 200 से 250 के करीब कार्यकर्ताओं ने आकर मारपीट करना शुरू कर दिया आैर जबरदस्ती से घसीटते हुए आंबेडकर चाैक ले जाया गया आैर वहां पर भी लातों से लोखंडी राॅड से पिटना शुरू कर दिया जिससे उन के सर पर १५ टाके लगे है..आैर पुरे जिस्म पर लाठी बरसाते रहे जिसकी वजह स शेख युनुस को बहुत गहरी चाेंटे आई आैर पुरी वर्दी खून से लथपथ हो गई इतने पर न ठहरते हुए ऊनके हाथों में भगवा झेंडा देकर मुजरा करने काे कहा आैर फिर ऊनकी दाढ़ी पकडकर चेहरे पर उस्तरा चलाने की कोशिश की गई।

सभी गुंडागर्दी पानगांव के चाैहान नामक व्यक्ति ने कि आैर जबरन जय भवानी जय शिवाजी नारा देने काे कहा।

ईसकी वजह यह थी कि १ दिन पहले ए. एस. आइ. शेख युनुस ने ऊससे कहा था कि वादग्रस्त जगहों पर झेंडे न लगाएं सरकार की तरफ से आॅडर है।
यह बात क्यों कही,  काे लेकर चाैहान ने बाद में देखूंगा कह कर चला गया। आैर ऊसके अगले दिन सुबह काे यह घटना हुई। ईससे यह साफ जाहिर होता है कि पाॅलिटीक्स सपाेट॓ से ही इस घटना काे अंजाम दिया है। हालांकि शेख के सहकारी काॅनस्टेबल आवसकर वहां माैजुद थे पर ऊन्हे छाेड कर सिर्फ शेख काे ही निशाना बनाया  गया। शेख युनुस की उम्र ५६ साल है। उनकाे लातूर शहर के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।  (Hindi Ustad Team)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें