सहारनपुर हिंसा सहित प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में दलितों पर हो रहे अत्याचार के विरोध में योगी सरकार के खिलाफ प्रेस कॉन्फ्रेंस की तैयारी में जुटे  कई दलित कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया गया है. इनमे रिटायर्ड ब्यूरोक्रेट एसआर दारापुरी भी शामिल है.

पुलिस अधीक्षक विकास चन्द्र त्रिपाठी ने बताया कि ये लोग प्रेस क्लब में वार्ता के नाम पर एकजुट हो कर मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ के आवास की ओर कूच करने वाले थे. जिसे समय रहते रोक लिया गया है.

वहीँ एसआर दारापुरी ने बताया कि उन्होंने ‘दलितों के उत्पीड़न’ पर चर्चा के वास्ते प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाई थी. दारापुरी ने कहा कि झांसी से रविवार को करीब 50 दलितों को लखनऊ आने पर रोक लगा दी थ. ये लोग मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिलकर उन्हें एक विशाल साबुन की टिकिया भेंट करना चाहते थे. यह सभी अहमदाबाद से अपने साथ 125 किलो के साबुन की टिकिया साथ लाए थे.

 गौरतलब है कि योगी आदित्यनाथ के जिले दौरे के समय कुशीनगर पहुंचने से पहले प्रशासन ने स्थानीय दलितों को साबुन और सैंपू दिया था. साथ ही सीएम योगी के पास नहाकर आने की नसीहत दी थी. ये उसका ही विरोध माना जा रहा है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE