उत्तर प्रदेश के फतेहपुर जिले में गुरुवार को हुई हिंसा के बाद अब तक पुलिस ने 27 लोगों को गिरफ्तार किया है. सूबे के आला अधिकारी हालात पर नजर रख रहे हैं.

हिंसा के बाद इलाके में धारा 144 लगा दी गई है

फतेहपुर में गुरुवार को हुई हिंसा के बाद मंडल के सभी वरिष्ठ पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी जहानाबाद में ही डेरा डाले हुए हैं. धारा 144 लागू किए जाने के बाद से अब तक इस मामले में 27 लोगों को गिरफ्तार किए जाने की पुष्टि की जा चुकी है. यूपी डीजीपी खुद हालात पर नजर रखे हुए हैं.

और पढ़े -   बलात्कार और हत्या के आरोप में पीस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. अय्यूब खान गिरफ्तार

बताते चलें कि फतेहपुर जिले के जहानाबाद कस्बे में विश्व हिंदू परिषद के कार्यक्रम के दौरान जबरदस्त हंगामा हुआ था. फायरिंग और पथराव में दो लोग जख्मी हो गए थे. एक समुदाय विशेष की कई दुकानों में तोड़फोड़ के बाद आग लगा दी गई थी. पुलिस और पीएसी ने लाठी चार्ज करके उपद्रवियों को खदेड़ दिया था. फतेहपुर में अब धारा 144 लगी हुई है.

और पढ़े -   मालेगांव निगम चुनाव में ओवैसी की पार्टी ने 7 सीटों पर लहराया जीत का परचम

जानकारी के मुताबिक, विहिप के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया के समर्थन में जुलूस निकालने को लेकर दो सांप्रदायिक गुट आपस में भिड़ गए. जहानाबाद के दारागंज इलाके में विहिप के लोग जुलूस निकाल रहे थे.

उन्होंने एक समुदाय विशेष के इलाके में जा रही बिजली की तार को तोड़ दिया था. जिस पर समुदाय विशेष के लोगों ने आपत्ति जताई. इसके बाद दोनों संप्रदायों के लोग आपस में भिड़ गए थे.

और पढ़े -   अलीगढ़: ठाकुरों ने भी चला दलितों का दांव, प्रशासन को दी इस्लाम अपनाने की धमकी

दोनों पक्षों में मारपीट शुरू हो गई. देखते ही देखते बवाल बढ़ गया. पथराव होने लगा जिसमें राहगीर भी फंस गए. एक महिला को गंभीर चोट लगी. सूचना मिलते ही भारी पुलिस बल वहां पहुंच गया और किसी तरह से हालात को काबू में किया. साभार: आज तक


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE