अयोध्या में विवादित राम मंदिर निर्माण के लिए 2 ट्रक पत्थर पहुंचे है. ये पत्थर योगी सरकार की इजाजत से राजस्थान से मंगवाए गए है.

दरअसल पूर्ववर्ती सरकार ने फॉर्म 39 पर रोक लगाकर पत्थर आपूर्ति पर रोक लगा रखी था, जिसे योगी सरकार ने शुरू करवा दिया है. ये पत्थर विहिप ने विधिक रूप से वाणिज्य कर विभाग द्वारा फॉर्म 39 के प्रावधान को पूरा करते हुए राजस्थान से मंगवाए है.

और पढ़े -   केंद्र द्वारा वक्फ प्रॉपर्टी के अधिग्रहण के खिलाफ उच्च न्यायालय में याचिका दायर

विहिप प्रांतीय मीडिया प्रभारी ने कहा कि मंदिर निर्माण में बाधक बने पूर्व सीएम अखिलेश यादव को अर्चन उत्पन्न करने का फल मिला है जिससे वह दोबारा सत्ता में आसीन नहीं हो सके.

गौरतलब रहें कि राम मंदिर निर्माण के लिए कार्यशाला में सितम्बर 1990 से राजस्थान की खदानों से पत्थर मंगाया जा रहा है, जिसे पूर्वर्ती सरकार ने वाणिज्य कर विभाग से मिलने वाले फॉर्म 39 पर रोक लगाकर पत्थरों की आने वाली खेप पर पाबन्दी लगा दी थी.

और पढ़े -   रेल हादसा: नमाज छोड़ मुस्लिमों ने घायलों की जान बचाई, हिंदू संतों ने कहा - नहीं आते तो आज जिंदा नहीं बचते

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE