उत्तर प्रदेश के मऊ ज़िले के घोसी थाना क्षेत्र में सोमवार 700 हिन्दुओं ने अपना धर्म परिवर्तन करके ईसाई धर्म स्वीकार कर लिया, जिसके बाद हिंदू युवा वाहिनी एवं अन्य भगवा चरमपंथी संगठनों द्वारा धर्म परिवर्तन करने वालों को डराने व धमकाने की ख़बरे हैं।

उत्तर प्रदेश में 700 हिंदुओं ने स्वीकार किया ईसाई धर्म

इतना ही नहीं हिंदू युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं ने 15 लोगों को फिर से हिंदू बनाकर घर वापसी का दावा किया है। प्राप्त समाचार के अनुसार, 700 हिंदूओं द्वारा स्वेच्छा से धर्म परिवर्तन करके ईसाई धर्म स्वीकार कर लेने की घटना के बाद, भगवा चरपंथी संगठनों के कड़े विरोध के कारण इलाके में तनाव व्याप्त है।

और पढ़े -   नहीं रुक रहा मुस्लिमों पर अत्याचार, फर्रुखाबाद में नबी अहमद की पीट-पीट कर हत्या

ईसाई धर्म अपनाने वालों का कहना है कि उन्होंने स्वेच्छा से ईसाई धर्म अपनाया है और क़ानून उन्हें ऐसा करने की पूरी आज़ादी देता है। इस बीच भगवा चरमपंथी संगठनों द्वारा दबाव डालकर घर वापसी कराने की ख़बरों के बाद, मौक़े पर पहुंचे ज़िलाधिकारी का कहना है कि घर वापसी जैसा कोई कार्यक्रम नहीं है।

यह ऐसी स्थिति में है कि जब राजस्थान पथ परिवहन निगम के अध्यक्ष भारतीय प्रशासनिक सेवा के वरिष्ठ अधिकारी उमराव सालोदिया ने दलित होने के कारण अपने साथ भेदभाव से आजिज़ आकर इस्लाम स्वीकार कर लिया और मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को अपनी स्वेच्छिक सेवानिवृत्ति का आवेदन दे दिया है। साभार: IHR

और पढ़े -   अदालत ने बढ़ती असहिष्णुता पर जताई चिंता, कहा - रोक लगाने की है सख्त जरुरत

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE