रामपुर:संयुक्त मदरसा आधुनिकीकरण शिक्षक समूह के प्रदेश अध्यक्ष शहज़ादे अली अंसारी ने कहा कि मदरसा आधुनिक शिक्षक इस समय बहुत बुरे दौर से गुजर रहे हैं। कैंद्र सरकार ने पूरे (2 बर्षो) से केन्द्रांस जारी नही किया है जिसके कारण मदरसा शिक्षक आर्थिक तंगी एवं भुखमरी की कगार पर पहुंच चुके हैं, अगर ऐसा ही सौतेला व्यवहार रहा तो वह दिन दूर नही जब मदरसा शिक्षक आत्महत्या करने को मजबूर हो जायेंगें। वह आज रामपुर के अम्बेडकर पार्क में प्रदेश स्तरीय बैठक को संबोधित कर रहे थे। प्रदेश अध्यक्ष शहज़ादे अली अंसारी ने कहा कि केंद्र सरकार के ढिले रवैये एंव सौतेलेपन के कारण मदरसा शिक्षकों को (2 बर्षो) से मानदेय नहीं मिला है फिर भी मदरसा शिक्षक रोजाना गरीब बच्चों को शिक्षित करने मदरसों मे जाते हैं इतना सब कुछ होते हुए भी दूसरी ओर उत्तर प्रदेश सरकार मदरसा शिक्षकों को अपना निशाना बना रही है हर माह नये नये फरमान जारी कर देती है और जांच पर जांच बिठा देती है ,प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि हमारी जांच रोजाना किजीए, रोजाना नये नये फरमान जारी किजीए हम आपके हर आदेश का पालन करेंगे और करायेंगें भी, परन्तु मदरसा शिक्षको के मानदेय को जारी किजीए जो (2 बर्षो) से लटका रखा है, उन्होंने कहा कि जल्द मानदेय जारी नहीं किया तो पूरे प्रदेश के मदरसा शिक्षक भुख हडताल के साथ साथ कार्य बहिष्कार करेंगे! इसी मौके पर जिलाध्यक्ष अख्तर अली ने कहा कि प्रदेश सरकार ने (2 माह) पहले (7 माह) का राज्यांश अल्पसंख्यक कल्याण विभाग को भेजा था, परन्तु अल्पसंख्यक कल्याण विभाग की कार्यशैली दुर्भाग्यपूर्ण होने के कारण अभी तक शिक्षकों का भुगतान नही हो गया है।
बैठक के बाद सैकड़ों शिक्षक प्रदेश अध्यक्ष शहज़ादे अली अंसारी के नेतृत्व में जिलाधिकारी महोदय से मिले और राज्यांश भुगतान के संम्बंध मे ज्ञापन दिया, जिलाधिकारी महोदय ने आश्वासन दिया कि जल्द राज्यांश का भुगतान करा दिया जायेगा।


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE