आज एक ऐसे स्वामी की कहानी, जो 32 साल की उम्र में ही दक्षिण भारत के गुरुओं के बीच बहुत ऊंचा रुतबा हासिल कर चुका था। हम बात कर रहे हैं स्वामी नित्यानंद की। 2010 में उनकी एक कथित सेक्स सीडी सामन आई। आरोप लगे कि सीडी में नित्यानंद एक मशहूर अदाकारा के साथ थे-साथ ही ये सवाल उठने लगे कि नित्यानंद योगी हैं या ढोंगी।

दक्षिण भारत के एक न्यूज चैनल पर ये तस्वीरें 2 मार्च 2010 को प्रसारित की गईं। ये सेक्स सीडी थी। सीडी में लाखों भक्त वाले एक बड़े स्वामी थे। साथ में थी एक महिला। उसे तमिल फिल्मों की चर्चित अभिनेत्री बताया गया सेक्स सीडी सामने आते ही स्वामी के भक्त भड़क उठा, वो गुस्से में थे। गुस्सा चैनल के खिलाफ नहीं स्वामी के खिलाफ था। भक्त खुद को ठगा महसूस कर रहे थे।

स्वामी नित्यानंद सेक्स स्कैंडल के वक्त महज 32 साल की उम्रवाले स्वंयभू तांत्रिक, अद्वैत गुरु, जिसका बैंगलुरु से 50 किलोमीटर दूर 29 एकड़ में फैला विशाल आश्रम था। वो मदुरै के 1500 साल पुराने शैव मठ मदुरै अधीनम का उत्तराधिकारी भी था। बाद में उसे इस पद से हटा दिया गया। देश-विदेश में उनके लाखों भक्त थे। सेक्स सीडी सामने आते ही स्वामी नित्यानंद का सिंहासन डोल गया।

नित्यानंद के आश्रम ने सीडी को झुठला दिया। नित्यानंद हिमाचल में जा छुपे, जहां पुलिस ने उन्हें खोज निकाला। 2010 में नित्यानंद इस मामले में 52 दिन तक जेल में रहे। 11 जून 2010 को उन्हें जमानत मिली लेकिन इस बीच उनकी दुनिया बदल चुकी थी। अब दुनिया सवाल पूछ रही थी कि नित्यानंद योगी हैं या ढोंगी।   खुद को ठगा महसूस कर रहे भक्तों को जल्दी ही इस सवाल का भी जवाब मिल गया। दरअसल, सेक्स सीडी सामने आने के बाद नित्यानंद ने अपने बचाव में वही दलील दी जो ऐसे मामलों में फंसने वाले ज्यादातर आरोपियों की दलील होती है। बैंगलुरु सीआईडी के सामने उन्होंने बयान दिया था कि- वो नपुंसक हैं।

नित्यानंद ने सवालों के जवाब दिए थे- सवाल 1- क्या सीडी में जो शख्स मौजूद है वो तुम हो? नित्यानंद- नहीं, वो में नहीं हूं। सवाल 2- नहीं, यह तुम ही हो, तुम क्यों कह रहे हो कि तुम नहीं हो? नित्यानंद- मैं मर्द नहीं हूं, फिर में सेक्स कैसे कर सकता हूं।   नित्यानंद के दावे के बाद अदालतक ने उन्हें मेडिकल टेस्ट कराने के आदेश दिए, लेकिन 30 जुलाई 2012 को बैंगलोर में मेडिकल टेस्ट के लिए वो पेश नहीं हुए। अपने बचाव में तमाम तरह के हथकंडे आजमाने के बाद खबरों के मुताबिक बाद में हुई पूछताछ में स्वामी नित्यानंद खुद अपने बयान से पलट गए। उन्होंने सीडी में दिख रही अदाकारा समेत 15 महिलाओं के साथ रिश्ते बनाने की बात मान ली। नित्यानंद ने ये भी कहा कि उन्होंने कभी भी किसी के साथ जबरदस्ती नहीं की।

नित्यानंद के इस दावे की हवा भी 2012 में तब निकल गई जब उनपर भारतीय मूल की अमेरिकी महिला ने यौनशोषण का आरोप लगाया। दूसरी तरफ सेक्स सीडी का मामला भी पुलिस जांच से निकल कर अदालत में पहुंच गया। आरोप लग रहे हैं कि नित्यानंद कानून का साथ देने के बजाय मामले को लटकाने की कोशिशें कर रहे हैं।

दुनिया के सामने नित्यानंद की कथित सेक्स सीडी उनके ही पूर्व ड्राइवर और भक्त लेनिन कुरुप्पन की व्रुाह से सामने आई थी। उसने ही नित्यानंद के बेडरूम में छुपा कैमरा लगाया था। लेनिन पर नित्यानंद के आश्रम ने सीडी के जरिए ब्लैकमेल करने का आरोप लगाया, जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

जुलाई 2011 में नित्यानंद के आश्रम ने सीडी दिखाने वाले चैनल के सीईओ पर तस्वीरों से छेड़छाड़ करने और ब्लैकमेल की कोशिश का आपराधिक मामला दर्ज कराया दिया। ये सभी मामले आज भी अदालत में हैं। (liveindiahindi)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें