चेन्‍नई: बारिश से बेहाल चेन्नई में पिछले सौ सालों का रिकॉर्ड टूट गया है। शहर के स्कूल, कॉलेज बीते 16 दिनों से बंद हैं। हालात ये हैं कि सड़कों पर कई-कई फीट पानी जमा है और लोगों को अस्पताल तक जाने में परेशानी हो रही है। प्रशासन की मदद के लिए सेना, नौसेना और एनडीआरएफ की टीमें जुटी हैं।
chennai_tarmac_flooded_650x400_635846420679406332
यहां तक की चेन्‍नई एयरपोर्ट भी पानी से लबालब भर गया है। हालात ये हैं कि एयरपोर्ट के रन-वे तक पानी में डूब गए हैं और विमान भी पानी में खड़े हैं। एयरपोर्ट के निदेशक दीपक शास्‍त्री ने कहा कि जब तक एयरपोर्ट पर जल स्‍तर में कमी नहीं आएगी, विमान उड़ान नहीं भर पाएंगे। मंगलवार को भी रात 10 बजे तक नौ उड़ानों को रद्द कर दिया गया। चेन्नई एयरपोर्ट को दिन भर के लिए बंद कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि यहां पर करीब 4000 लोगों के फंसे होने की खबर है। एनडीटीवी से बात करते हुए एनडीआरएफ के डीआईजी ने एनडीआरएफ की पांच और टीमों को तैनात करने का फ़ैसला किया है। एनडीआरएफ के मुताबिक, हवाई अड्डे के साफ होने के बाद राहत और बचाव के काम में तेज़ी आएगी।

रेल यातायात भी प्रभावितवहीं, भारी बरसात से रेल यातायात भी प्रभावित हुआ है। रेल ट्रैकों पर पानी भर जाने की वजह से करीब 13 ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है। चेन्‍नई के लिए आने-जाने वाली ट्रेनों पर भी इसका खासा असर पड़ा है, जिससे लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

चेन्‍नई के कई हिस्‍सों में सड़कें पानी से लबालब भर गई हैं। बताया जा रहा है कि घरों में भी बारिश का पानी भर गया है। लोगों का कहना है कि शहर में बिजली किल्‍लत का सामना भी करना पड़ रहा है। चेन्‍नई चिडि़याघर में भी बाढ़ सरीखे हालात देखे जा रहे हैं।इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जयललिता से बाढ़ के हालात पर बातचीत की है और राज्य को हर ज़रूरी सहायता मुहैया कराने का भरोसा दिया है। पीएम मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘तमिलनाडु के हिस्सों में बाढ़ की स्थिति को लेकर जयललिताजी से बात की। इस दुर्भाग्यपूर्ण घड़ी में सभी संभावित मदद और सहयोग का आश्वासन दिया।’’

वर्षाजनित हादसों में मरने वालों की संख्या जहां 188 पहुंच गई वहीं जयललिता ने हालात का जायजा लिया और कहा कि पुलिस, अग्निशमन ओैर राहत, एनडीआरएफ, राज्य आपदा बल और तटीय गार्ड हालात पर काबू पाने के लिए प्रयासरत हैं। दूसरी तरफ मौसम विभाग के अधिकारियों ने सचेत किया है कि अभी अगले चार दिनों में राज्यभर में और बारिश होगी और कुछ क्षेत्रों में भारी से बहुत भारी वर्षा होगी।

उल्‍लेखनीय है कि चेन्नई और आसपास के इलाकों में भारी बारिश जारी है। बारिश की वजह से स्कूल और कॉलेज 16 वें दिन भी बंद रहे। आने वाले दिनों में भी भारी बारिश के आसार बताए जा रहे हैं। नदी के किनारे रहने वाले तकरीबन 3000 लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया गया है। सेना के जवान भी राहत के काम में मदद कर रहे हैं।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें