atom

दुनिया पहले ही दो विश्वयुद्ध में युद्ध की भयानकता झेल चुकी हैं जिसका खामियाजा आज भी कई देशों में पैदा होने वाली नई नस्ल अब भी भुगत रही हैं. इसका सीधा सा उदाहरण हमारे पास जापान मौजूद हैं. इसके बावजूद आंख बंद करके भारत और पाकिस्तान दोनों देशों पर युद्ध का खुमार चड़ा हुआ हैं. दोनों ही देशों ने परमाणु बमों को खिलौना समझ लिया हैं और एक-दुसरे को ये जाने बिना की परमाणु युद्ध के क्या नतीजे होंगे धमकिया दे रहे हैं.

हम बताते हैं कि अगर खुदा न करे दोनों मुल्कों के बीच अगर परमाणु युद्ध हो गया तो एक झटके में एक परमाणु बम से दो अरब दस लाख लोग मारे जाएंगे. साथ ही इसके पड़ोसी मुल्कों सहित आधी दुनिया तबाह हो जाएँगी. भारत और पाकिस्तान के पास जो परमाणु बम हैं, वह बम हिरोशिमा पर गिराए गए बमों से बिलकुल भी कम नहीं हैं. जो तबाही हिरोशिमा में हुई थी. उसे कम ताबाही की आप उम्मीद भी नहीं कर सकते.

रटगर्स यूनिवर्सिटी, कोलोराडो-बॉउल्डर यूनिवर्सिटी और कैनिफोर्निया यूनिवर्सिटी, लॉस एंजिल्स ने 2007 के अपने अध्ययन में दावा किया है कि अगर भारत और पाक के बीच परमाणु युद्ध होता हैं तो 2.1 अरब लोग सीधे तौर पर विस्फोट, आग और रेडिएशन से पहले हफ्ते में मर जाएंगे. ये संख्या द्वितीय विश्व युद्ध में मारे गए लोगों की आधी है. साथ ही 2 बिलियन लोग भुखमरी और क्लाइमेट इफेक्ट के शिकार हो सकते हैं.

दुनिया के एक बड़े इलाके से पेड़-पौधों और वनस्पतियों क नामो-निशान तक मिट जाएगा. निया को बचाने वाली ओजोन परत आधे से ज्यादा नष्ट हो जाएगी और ‘परमाणु युद्ध की ठंड’ मानसून और खेती को विश्व स्तर पर छिन्न भिन्न कर देगी. हम आज भी भोपाल गैस त्रासदी से नहीं निपट पाए है. आज भी भोपाल में तीस साल बाद भी तीसरी पीडी रेडिएशन से प्रभावित होकर बीमार पैदा हो रही हैं.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें