मारपीट करने वालों, गांधी को देशद्रोही मानने वालों और महिलाओं को गालियां देने वालों को तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ट्विटर पर फॉलो करते हैं लेकिन, विपक्ष के किसी भी नेता को वे इस लायक नहीं समझते

ट्विटर पर आपकी संगति कुछ ठीक नहीं लगती प्रधानमंत्री जी!

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोशल मीडिया की सबसे चर्चित हस्तियों में शामिल हैं. अमिताभ बच्चन के बाद जिस भारतीय के ट्विटर पर सबसे ज्यादा मुरीद हैं, वे नरेंद्र मोदी ही हैं. उन्हें एक करोड़ 85 लाख से ज्यादा लोग ट्विटर पर फॉलो करते हैं. दो महीने पहले ही उन्होंने लोकप्रियता के इस पैमाने पर शाहरुख़ खान को पछाड़ा था और तब यह देश भर में चर्चा का विषय बन गया था. प्रधानमंत्री मोदी के करोड़ों मुरीद होने की जानकारी किसी से छिपी नहीं है लेकिन यह शायद कम ही लोग जानते हैं कि नरेंद्र मोदी खुद किन लोगों के मुरीद हैं.

ट्विटर पर नरेंद्र मोदी किन लोगों को फॉलो करते हैं? कौन लोग हैं जिनके लिखे या साझा किये ‘140 अक्षर’ प्रधानमंत्री के ट्विटर अकाउंट पर घूमते नज़र आते हैं? नरेंद्र मोदी जिन्हें फॉलो करते हैं उनका परिचय क्या है और वे लोग किस तरह की बातें ट्विटर पर लिखते हैं? इन तमाम सवालों के जवाब प्रधानमंत्री मोदी के ट्विटर अकाउंट को खंगालने पर मिल जाते हैं. साथ ही इससे उनकी रूचि और रुझानों के बारे में कई दिलचस्प और अजीबोगरीब जानकारियां भी मिलती हैं जिनसे उनकी एक नई ही छवि बनती है.

modi 1

फिलहाल दुनिया भर के मात्र 1228 लोगों को ही यह सौभाग्य मिला है कि भारत के सबसे चर्चित प्रधानमंत्री उन्हें ट्विटर पर फॉलो कर रहे हैं. इनमें कई देशों के प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति, राष्ट्राध्यक्ष और प्रतिनिधियों के साथ ही देश-विदेश की अन्य कई बड़ी हस्तियां शामिल हैं. कई मंत्रालयों, विभागों, न्यूज़ एजेंसियों के आधिकारिक अकाउंट और खेल जगत से लेकर बॉलीवुड हस्तियां तक उस सूची में शामिल हैं जिन्हें प्रधानमंत्री फॉलो कर रहे हैं. लेकिन इन तमाम बड़ी और चर्चित हस्तियों से इतर जिन लोगों को फॉलो करने में प्रधानमंत्री मोदी की रूचि है वे बेहद दिलचस्प हैं. इनमें से कुछ ऐसे हैं जिनका परिचय कहता है ‘चल निकल बे’ तो कुछ ऐसे हैं जिनका परिचय ही इतना है कि ‘नरेंद्र मोदी उन्हें फॉलो करते हैं.’ लेकिन इससे भी अजीबोगरीब कई अकाउंट भी उस सूची में शामिल हैं जिन्हें प्रधानमंत्री मोदी फॉलो कर रहे हैं. इन तमान लोगों को मोटे तौर पर इन कुछ हिस्सों में बांटा जा सकता है:

‘कट्टर हिन्दू’ लोगों को फॉलो करते हैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

यह जानकारी कई लोगों को चौंकाने वाली लग सकती है कि एक धर्मनिरपेक्ष देश के प्रधानमंत्री कई धार्मिक कट्टरपंथियों का अनुसरण करते हैं. इससे भी ज्यादा चौंकाने वाली बात यह है कि इन कट्टरपंथियों में कोई भी ‘कट्टर मुस्लिम’, ‘कट्टर सिख’, ‘कट्टर जैनी’ या ‘कट्टर ईसाई’ नहीं है. लेकिन ऐसे दर्जनों लोगों को प्रधानमंत्री मोदी फॉलो कर रहे हैं जिनके परिचय में ही ‘कट्टर हिन्दू’ होने का दावा किया गया है. इन तमाम लोगों में एक समानता यह भी है कि ये लोग हमेशा लगभग एक ही तरह के ट्वीट करते हैं. इनमें कभी लोगों से ‘जी न्यूज़’ देखने की मांग की जाती है, कभी ऐसी ख़बरें साझा की जाती हैं जो बताती हैं कि कई धार्मिक संगठन जबरन हिन्दुओं का धर्मांतरण करवा रहे हैं, कभी ‘जागो हिन्दू जागो’ शीर्षक से सन्देश दिए जाते हैं और अक्सर ‘हिन्दू राष्ट्रवाद’ का प्रचार किया जाता है. इस श्रेणी में शामिल लोग कुछ चुनिंदा लोगों के ट्वीट को लगातार रीट्वीट करते भी दिखते हैं. अनुपम खेर, सुब्रमण्यम स्वामी, जी न्यूज़ के पत्रकार सुधीर चौधरी और रोहित सरदाना के साथ ही तेजिंदर पाल सिंह बग्गा जैसे लोगों को अधिकतर इस श्रेणी द्वारा रीट्वीट किया जाता है.

वैसे तेजिंदर पाल सिंह बग्गा को नरेंद्र मोदी स्वयं भी फॉलो करते हैं. बल्कि उनके साथ ही केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी, विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह और भाजपा सांसद मिनाक्षी लेखी भी बग्गा को ट्विटर पर फॉलो कर रहे हैं. बग्गा की पहचान यह है कि उन्होंने कुछ साल पहले वरिष्ठ अधिवक्ता प्रशांत भूषण के ऑफिस में घुसकर उन पर हमला कर दिया था और तभी से वे चर्चा में आए थे. ठीक वैसे ही जैसे इन दिनों जेएनयू छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार पर हमला करने के कारण अधिवक्ता विक्रम सिंह चौहान चर्चाओं में हैं. तेजिंदर बग्गा ‘भगत सिंह क्रांति सेना’ नाम का एक संगठन भी चलाते हैं. यह शायद दुनिया का एकमात्र ऐसा संगठन है जो भगत सिंह के नाम पर तो है लेकिन दक्षिणपंथी विचारधारा का समर्थन करता है. इसके अलावा बग्गा ‘द नमो पत्रिका’ नाम की एक वेब पत्रिका के संपादक भी हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विकास साबू के ट्विटर अकाउंट को भी फॉलो करते हैं
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विकास साबू के ट्विटर अकाउंट को भी फॉलो करते हैं

वे लोग जो सार्वजनिक जीवन में ज्यादा चर्चित नहीं हैं, जिनका नाम शायद ही कभी किसी ने सुना है, ट्विटर पर जिनका परिचय बताता है कि वे ‘कट्टर हिन्दू’ हैं और प्रधानमंत्री मोदी उन्हें फॉलो करते हैं, ऐसे कुछ लोग और उनका परिचय इस तरह है:

विभा गुप्ता @vibhask1

परिचय: सामाजिक कार्यकर्ता, ट्विटर पत्रकार, कट्टर हिन्दू. सिर्फ एक सपना-नामोमय भारत.

निकुंज साहू @NikunjSahu

परिचय: देशभक्त-कट्टर हिंदूवादी

डी @DhanushKool

परिचय: असहिष्णु, ढीठ (unapologetic), हिन्दू राष्ट्रवादी, मानसिक शांति के लिए हानिकारक हूं, मुझे अपने रिस्क पर फॉलो करें.

आकांक्षा @Mrs_Patankar

परिचय: गौरवांवित हिन्दू राष्ट्रवादी, नास्तिक, मॉडरेट, विद्रोही, तार्किक, अडिग नमो भक्त

रवि रंजन @R8Ravi

परिचय: स्वयंसेवक, हिन्दू राष्ट्र हो यह सपना है.

हिन्दू डिफेन्स लीग @HDLindiaOrg

परिचय: हिन्दू डिफेन्स लीग का आधिकारिक ट्विटर हैंडल.

इस आखिरी अकाउंट का सबसे पहला ही ट्वीट है: ‘श्री नाथूराम न आतंकी न शाहिद थे, वह एक वीर बलिदानी थे जिसने पाकिस्तान परस्त गांधी का संहार किया था.’

यह बात निश्चित ही कई देशवासियों को चौंका सकती है कि जिस ट्विटर अकाउंट से राष्ट्रपिता के हत्यारे को प्रमुखता से महिमामंडित किया जा रहा है उस अकाउंट का अनुसरण करने वालों में देश के प्रधानमंत्री भी शामिल हैं.

ऊपर जिन ट्विटर अकाउंट्स का जिक्र किया गया है वह ‘कट्टर हिन्दुओं’ की उस सूची का एक छोटा सा हिस्सा मात्र हैं जिन्हें प्रधानमंत्री मोदी फॉलो कर रहे हैं. उनकी सूची में शामिल 1228 लोगों में से दर्जनों ऐसे हैं जिनका परिचय ही उनके ‘कट्टर हिन्दू’ होने का दावा करता है.

आपत्तिजनक ट्वीट करने वालों को फॉलो करते हैं प्रधानमंत्री मोदी

ट्विटर और फेसबुक पर ऐसे लोगों की कमी नहीं है जो आपत्तिजनक बातें लिखते हैं या किसी अन्य की लिखी आपत्तिजनक बातों को साझा करके बढ़ावा देते हैं. साथ ही ऐसे लोग भी यहां बहुतायात में हैं जो किसी विचार पर सहमत न होने पर गालियां लिखने लगते हैं. ऐसे कुछ लोगों को हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी फॉलो करते हैं. इनमें कई ऐसे भी हैं जिन्हें देश के कई बड़े पत्रकारों और बुद्धिजीवियों ने इसलिए ब्लॉक किया है कि ये उनकी पोस्ट पर गालियां लिखा करते थे. इनमें से कई लोग तो ब्लॉक होने पर स्वयं ही उत्साह मनाते हुए इस खबर को साझा भी करते हैं कि कथित ‘मोदी-विरोधी’ ने उन्हें ब्लॉक कर दिया है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ऐसे कई ट्विटर अकाउंट को फॉलो करते हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ऐसे कई ट्विटर अकाउंट को फॉलो करते हैं

सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक बातें साझा करने और गालियां लिखने वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग काफी समय से हो रही है. इस सम्बन्ध में कुछ जनहित याचिकाएं भी लंबित हैं जिनमें ऐसे लोगों पर नकेल कसने की मांग की गई है. लेकिन ऐसी किसी कार्रवाई की संभावनाएं यह जानने के बाद काफी कम लगती हैं कि देश के प्रधानमंत्री स्वयं ही ऐसे लोगों का अनुसरण कर रहे हैं. निश्चित ही इन लोगों द्वारा किये गए ट्वीट या रीट्वीट पर प्रधानमंत्री मोदी की नज़र पड़ती होगी क्योंकि वे सीधे ही ऐसे कुछ लोगों को फॉलो करते हैं. लेकिन इन लोगों पर कार्रवाई तो दूर आज प्रधानमंत्री मोदी ने इन्हें अनफॉलो या ब्लॉक तक नहीं किया है.

प्रधानमंत्री मोदी की सूची में शामिल ऐसे ही कुछ लोग और उनके द्वारा किये गए आपत्तिजनक ट्वीट या रीट्वीट:

#माय पीएम नमो#एचडीएल @cooladitaya

परिचय: मोदीजी का ‘डाईहार्ड फैन’, मेरा सपना सच हुआ, मोदीजी अब प्रधानमंत्री हैं, मैं उनके खिलाफ कुछ नहीं सुन सकता इसलिए मोदी-विरोधी लोग मुझसे दूर रहें. ‘ओह माय गॉड’ प्रधानमंत्री मुझे फॉलो करते हैं.

विवादास्पद ट्वीट: ‘इसके परिवार को इस पर गर्व हैं क्योंकि वर्षों कितनों ने इसकी अम्मी का बलात्कार किया तब जाकर इस मादरजात को आज़ादी मिली है’ (जेएनयू छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार के परिवार के इस बयान पर कि उन्हें कन्हैया पर गर्व है.)

विकास साबू @SabooVikas

परिचय: इरादे मेरे हमेशा साफ़ होते हैं – इसलिये अक्सर लोग मेरे खिलाफ होते हैं. गौमाता को राष्ट्रीय माता घोषित कराने हेतु प्रयासरत. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सर मुझे फॉलो करते हैं.

विवादास्पद ट्वीट: ‘इस समय ये हाल है कि अगर खजरेला कुत्ता भी मोदी के पीछे एक किलोमीटर दौड़ जाए तो बरखा दत्त उसके साथ भी हनीमून मना ले’

विशाल पनिक्कर @VisVp

परिचय: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदीजी में समर्पित आस्था रखता हूं. खुशनसीबी से वे भी मुझे फॉलो करते हैं. ‘एक भारत, श्रेष्ठ भारत’

विवादास्पद ट्वीट: कन्हैया द्वारा बरखा दत्त के लिए – ‘मेड इन चाइना फीमेल कंडोम्स को डब्ल्यूएचओ ने सुरक्षित घोषित किया’

रविभूषण सिंह @ravibhushansin4

परिचय: जातीय आरक्षण से नफरत करता हू, काबिलियत को सलाम, हिन्दी और हिन्दू खून में है, इंसानियत को करता हू प्रणाम. प्रधानमंत्री मोदी द्वारा फॉलो किए जाने से गौरवांवित हूं.

विवादास्पद ट्वीट: ‘ये लेके रहेंगे आज़ादी. क्योंकि बाप है इनका बगदादी.

‘जब मोदी विरोध की इन्तेहां हो गई, तब अफज़ल अब्बू, इशरत मां हो गई.’

‘नितीश कुमार गहरे सदमे में हैं कि जिस इशरत जहां को अपनी बेटी समझा था उसके अब्बा तो चिदंबरम निकले.’

अजीबोगरीब अकाउंट्स को फॉलो करते हैं प्रधानमंत्री

कई कट्टर हिन्दुओं और आपत्तिजनक ट्वीट करने वालों के अलावा प्रधानमंत्री मोदी कुछ बेहद अजीबोगरीब लोगों को भी ट्विटर पर फॉलो कर रहे हैं. हालांकि इन अकाउंट्स से भी उसी तरह के ट्वीट किये जाते हैं जैसा कि ऊपर लिखे अन्य दो तरह के लोग करते हैं, लेकिन इनके नाम ही इन्हें ‘अजीबोगरीब’ की श्रेणी में डालते हैं. प्रधानमंत्री मोदी की सूची में शामिल ऐसे कुछ अकाउंट्स हैं:

पाटलीण बाई, संघीलिक्चुअल, दि इनटॉलरेंट हिन्दू, विक्कीपीडिया, छोटी पूरी, डॉक्टर जल कुकडी, मुंहफट, स्माल टाउन गर्ल, स्टूडेंट बसंती, हेट मैगनेट, डिप्रेव्ड चोपड़ा साब, अहम् ब्रह्मास्मि, ॐ अथातो जिज्ञासा, इनटॉलरेंट भक्त, मसाला छास, कामरेड दीक्षित, मनुभाई सिंगापुरी, आचार्य-श्री, इनटॉलरेंट ऑडिटर.

अपने ही फैन क्लब्स को फॉलो करते हैं मोदी:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आत्ममुग्धता का परिचय सिर्फ उनके ‘सेल्फी-प्रेम’ या अपने नाम वाला सूट पहनने से ही नहीं बल्कि ट्विटर अकाउंट्स से भी देखा जा सकता है. यहां मोदी दर्जनों ऐसे अकाउंट्स को फॉलो करते हैं जो उनके नाम से और उन्हें महिमामंडित करने के लिए बनाए गए हैं. इनमें कुछ उनके नाम से बनी ‘आर्मी’ या ‘लीग’ भी शामिल हैं. ये अकाउंट्स इस प्रकार हैं:

मायपीएम नमो, नरेंद्र मोदी पीएम, मोदी फॉर पीएम, मोदी यूनाइटेड फैन क्लब, फ़ोर्स नमो, नमो टी पार्टी, नरेंद्र मोदी आर्मी, नमो चाय पार्टी, इंडिया नीड्स मोदी, नरेंद्र मोदीज फैन, मोदीप्लोमैसी, नरेंद्र मोदी फैन, नमो लीग, नमो 2019, नमो शक्ति, माय पीएम नरेंद्र मोदी, मोदी-फाइंग इंडिया, नमो इंडिया, देश भक्त, नमो_गाथा, मोदीफाई यूपी, नमो युग, नमो माय पीएम, भाजपा पथ-नमो पथ.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 'माइपीएमनमो' और 'एचडीएल' दोनों को फॉलो करते हैं जिन्होंने यह रीट्वीट किया है
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ‘माइपीएमनमो’ और ‘एचडीएल’ दोनों को फॉलो करते हैं जिन्होंने यह रीट्वीट किया है

सोशल मीडिया पर अक्सर लोग अपने वैचारिक विरोधियों को भी फॉलो किया करते हैं ताकि उनके द्वारा कही जा रही बातों आदि की जानकारी हो सके. लेकिन इसकी संभावनाएं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मामले में न के बराबर इसलिए हैं कि वे ज्यादातर एक ही तरह के लोगों को फॉलो करते हैं. वे प्रशांत भूषण को मारने वाले तेजिंदर सिंह बग्गा, महात्मा गांधी को पाकिस्तानपरस्त देशद्रोही मानने वाली हिन्दू डिफेन्स लीग और बरखा दत्त को भद्दी गालियां देने वाले विकास साबू को तो फॉलो करते हैं लेकिन शशि थरूर, कपिल सिब्बल, राहुल गांधी, अरविंद केजरीवाल, ममता बनर्जी, जयललिता, अखिलेश यादव या दिग्विजय सिंह जैसे किसी भी बड़े राजनीतिक प्रतिद्वंदी को इस लायक नहीं समझते.

हालांकि इन नेताओं में से कुछ को देश के प्रधानमंत्री के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से फॉलो किया जाता है, लेकिन यह अकाउंट 2012 का बना हुआ है जब मनमोहन सिंह देश के प्रधानमंत्री हुआ करते थे और इसे पीएमओ के अधिकारी ही संभालते हैं. यहां तक कि दोनों ही सदनों के नेता-प्रतिपक्ष तक उन लोगों की सूची में नहीं हैं जिन्हें नरेंद्र मोदी अपने निजी ट्विटर अकाउंट पर फॉलो करते हैं. गणतंत्र में विपक्ष की भूमिका बेहद अहम समझी जाती है लेकिन प्रधानमंत्री मोदी संवाद के इस मंच पर यदि उसका कोई स्वर तक नहीं सुनना चाहते तो इसे क्या कहा जाए!

प्रधानमंत्री मोदी द्वारा फॉलो किये जाने वाले फ़िल्मी सितारों की सूची भी बेहद दिलचस्प है. वे विनोद खन्ना, जूही चावला और प्रीटी जिंटा जैसे सितारों को तो फॉलो करते हैं लेकिन बॉलीवुड में जिन ‘तीन खानों’ की तूती बोलती है उनमें से एक को भी फॉलो नहीं करते.

कुछ समय पहले ही सूचना के अधिकार में पूछे गए सवालों का जवाब देते हुए प्रधानमंत्री कार्यालय यह बता चुका है कि प्रधानमंत्री मोदी अपना ट्विटर अकाउंट खुद ही संभालते हैं. उनके लिए कोई टीम यह काम नहीं करती. इसलिए यह भी साफ़ है कि नरेंद्र मोदी के अकाउंट से जिन लोगों को फॉलो किया जा रहा है उन्हें वे व्यक्तिगत तौर पर ही फॉलो कर रहे हैं. अब इसे यदि ‘किसी व्यक्ति की पहचान उसकी संगति से होती है’ जैसी कहावत को ध्यान में रखते हुए देखें तो प्रधानमंत्री मोदी की एक ऐसी छवि बनती है जो कई लोगों को एक लोकतांत्रिक देश के प्रधानमंत्री की छवि से मेल खाती हुई नहीं लगेगी.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें