नई दिल्ली।

अरविंद केजरीवाल की कैबिनेट में इस बार कुछ नए चेहरों को जगह मिल सकती है। खबर है कि आम आदमी पार्टी के संयोजक अनुभवी नेताओं को मंत्री बनाना चाहते हैं। पिछली कैबिनेट में शामिल मनीष सिसोदिया, सोमनाथ भारती, राखी बिड़ला, गिरीश सोनी और सौरभ भारद्वाज ने अपनी सीट में अच्छे अंतर से जीत हासिल की है।

इनमें सिसोदिया, भारद्वाज और जैन को फिर से कैबिनेट में शामिल किए जाने की उम्मीद है। खबर है कि देश के पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री के पोते और ऐपल के पूर्व एग्जेक्युटिव आदर्श शास्त्री को मंत्री बनाया जा सकता है और उन पर आप के फ्री वाई-फाई के वादे को पूरा करने की जिम्मेदारी दी जा सकती है।

और पढ़े -   आखिर क्यों अन्य राष्ट्रों को उत्तर कोरिया के विनाश में दिलचस्पी है?

इकनॉमिक टाइम्स से आप के जिन नेताओं ने बात की, वे कैबिनेट को लेकर अटकल नहीं लगाना चाहते थे। हालांकि उन्होंने कुछ नए चेहरों को कैबिनेट में शामिल किए जाने से इनकार नहीं किया।

पार्टी के एक सीनियर नेता ने नाम नहीं छापने की शर्त पर बताया कि 2014 से इस बार की हमारी सरकार बिल्कुल अलग होगी। यह आप 2 है। इस बार प्रशासनिक अनुभव को तरजीह दी जाएगी।श् आप के विधायकों को ज्यादा अनुभव नहीं है। इस कमी की भरपाई के लिए केजरीवाल टेक्नोक्रेट्स की मदद ले सकते हैं।

और पढ़े -   रवीश कुमार: पेट्रोल के दाम 80 रुपए के पार गए तो सरकार ने कारण बताए

उन्होंने कहा कि कुछ महत्वाकांक्षी वादों को पूरा करने के लिए उन्हें एक्सपर्ट्स की जरूरत है। केजरीवाल ने कहा, श्हां, हमे कुछ एक्सपर्ट्स की जरूरत है। हम इस मामले में सरकार में सेक्टर-वाइज एक्सपर्टाइज पर ध्यान देंगे। खबर एनबीटी


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE