आगरा: –

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अबदुल्ला के बेटे जहीर और जमीर अपने दोस्तों के साथ जब ताजमहल देखने पहुंचे तो सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें विदेशी समझकर रोक लिया। उनके साथ उनके पर्सनल सिक्योरिटी में शामिल सुरक्षाकर्मी भी थे। सुरक्षा की दृष्टि से उनकों ताजमहल परिसर के अन्दर हथियार ले कर अन्दर जाने से रोका गया। बाद में पूरी स्थिति स्पष्ट होने के बाद ही उन्हें स्मारक में प्रवेश मिला।

मंगलवार दोपहर करीब तीन बजे जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अबदुल्ला के बेटे अपने दोस्तों के साथ ताजमहल पहुंचे। उन्होंने भारतीय पर्यटकों वाला टिकट ख़रीदा पर ताज पूर्वी गेट पर उन्हें अप्रवासी भारतीय समझकर भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण व इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन (आइआरसीटीसी) के कर्मियों ने भारतीय पर्यटकों के टिकट पर स्मारक में प्रवेश से रोक लिया।

शायद फर्राटे से अंग्रेजी में बात करते लड़कों को देख कर सुरक्षाकर्मियों को गलतफहमी हो गयी थी। लड़कों के साथ चल रहे सुरक्षाकर्मियों को भी सुप्रीम कोर्ट के नियमों के अनुसार हथियार स्मारक में ले जाने की अनुमति नहीं दी गई। जब ताज चौकी से पहुंचे पुलिसकर्मी ने स्थिति स्पष्ट की तो उन्हें स्मारक में प्रवेश मिला लेकिन सुरक्षाकर्मियों को अपने हथियार स्मारक के बाहर छोड़ने पड़े।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें