फ्रांस के प्रधानमंत्री मैन्युएल वाल्स ने इस्लाम धर्म के बारे में कहा है कि यह धर्म लोकतंत्र तथा लोकतांत्रिक मूल्यों से पूरी अनुकूलता रखता।

फ्रेंच मीडिया के अनुसार फ्रांसीसी प्रधानमंत्री ने मायोट द्वीप समूह में एक भाषण में कहा कि यूरोप और फ़्रांस में इस्लाम का एक स्थान है और आने वाले वर्षों में यह साबित करना एक बड़ी चुनौती होगी कि इस्लाम धर्म लोकतंत्र, लोकतांत्रिक मूल्यों, महिला और पुरुष की समानता तथा संवाद से अनुकूलित है।

फ्रांसीसी प्रधानमंत्री ने इसके साथ ही मायोट द्वीप समूह के बारे में कहा कि यहां इस्लाम शताब्दियों पूर्व आया और इस द्वीप का इस्लामी समाज उदाहरणीय है जो लोकतांत्रिक मूल्यों से भी समन्वय रखता है। उल्लेखनीय है कि मायोट द्वीप की 95 प्रतिशत आबादी मुसलमान है।

फ्रांसीसी प्रधानमंत्री ने कहा कि इस एकता और समरसता के माहौल को फ्रांस के अन्य क्षेत्रों में तथा विश्व स्तर पर पेश करना बहुत महत्वपूर्ण है।

मायोट द्वीप समूह वर्ष 2011 में फ़्रासं के ओवरसीज़ टेरीटरीज़ का भाग बना है।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें