नई दिल्ली – कांग्रेस ने मोदी सरकार पर देशद्रोहियों जैसा व्यवहार करने का आरोप लगाया है। कांग्रेस ने कहा है कि चीन की चुनौती से निपटने के लिए यूपीए ने अपने कार्यकाल में माउंटेन स्ट्राइक कॉर्प्स गठन किया था, मगर मोदी सरकार ने उसमें भी कटौती कर दी। कांग्रेस ने मोदी सरकार को पिछले कई सालों में रक्षा के मोर्चे पर सबसे खराब प्रदर्शन करने वाली सरकार करार दिया है।

मंगलवार को एक साल का कार्यकाल पूरा करने जा रही एनडीए सरकार पर कांग्रेस ने नैशनल सिक्यॉरिटी और डिफेंस के मुद्दे पर हमले करने की रणनीति बनाई है। कांग्रेस का दावा है कि इस मोर्चे पर सरकार पूरी तरह से नाकाम रही है।

पूर्व रक्षा मंत्री ए.के. एंटनी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘माउंटेन स्ट्राइक कॉर्प्स का साइज कम कर दिया, जबकि चीन तेजी से डिफेंस इन्फ्रास्ट्रक्चर तैयार कर रहा है। सेना के यह कहने पर ही कॉर्प्स का गठन किया था कि वह चीन की चुनौती का सामना करने में मुश्किल महसूस कर रही है। यह बीजेपी सरकार की ऐंटी-नैशनल ऐक्टिविटी है।’

फ्रांस से राफेल फाइटर्स खरीदने की पीएम मोदी की घोषणा पर भी कांग्रेस ने सवाल उठाए हैं। कांग्रेस ने कहा है कि यूपीए ने यह प्रक्रिया इसलिए रोक दी थी, क्योंकि यशवंत सिन्हा जैसे सीनियर बीजेपी लीडर्स ने ही इस पर सवाल खड़े किए थे। डील को लेकर कई तरह के सवाल उठाते हुए एंटनी ने कहा, ‘सरकार खुलकर कहे कि वह अपने रुख से पलट रही है।’

एंटनी ने कहा, ‘मोदी सरकार का एक साल प्रदर्शन देते हुए मैं बेहिचक कह सकता हूं कि सरकार ने देश की सुरक्षा के साथ समझौता किया है।’


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें