राजीव गांधी खेल अभियान योजना का नाम, खेलो इंडिया हो गया है, योजना आयोग का नाम नीति आयोग हो गया है, गुड़गांव का नाम गुरुग्राम हो गया है, औरंगजेब रोड का नाम एपीजे अब्दुल कलाम हो गया है।

दूसरे धर्म की लड़की से शादी करने का नाम लव जिहाद हो गया है, पैसा देकर धर्म परिवर्तन कराने के ढ़ोंग का नाम घर वापसी हो गया है, दंगा कराने का नाम राष्ट्र की आराधना हो गया है। वकीलों, पत्रकारों, अदालत से पहले ही खुद की अदालत लगाकर उनकी कुटाई करने का नाम देशभक्ती हो गया है।

हर एक आलोचक का नाम देशद्रोही, गद्दार, पाकिस्तानी हो गया है।कोहनूर का नाम गाय का गौबर हो गया है, कपड़ों पर लगाये जाने वाले डीओ का नाम गौमूत्र हो गया है। फेहरिस्त और भी लंबी है, और ये मोदी सरकार की महज पौने दो साल की उपलब्धियां हैं, विपक्षी बावले हैं, जो कहते हैं कि विकास नहीं हो रहा है।

अमां देखो तो सही विकास की तो गंगा बह रही है।

वसीम अकरम त्यागी 


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

Facebook Comment

Related Posts

loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें