mayawati-1-620x400

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) प्रमुख मायावती ने उत्तरप्रदेश के चुनावों में जीत का दावा करते हुए कहा कि यूपी में हम सरकार बनाने जा रहे हैं.

उन्होंने कहा, यूपी में मुस्लिम वोटर्स बेहद निर्णायक होते हैं और दलित-मुस्लिम गठजोड़ तो एक नई राजनीतिक इबारत भी लिख सकता है. उन्होंने आगे कहा, अगर वे (मुस्लिम) राज्य में बीजेपी को सत्ता में आने से रोकना चाहते हैं, तो उन्हें बीएसपी के साथ आना होगा क्योंकि बीजेपी को बीएसपी ही सत्ता में आने से रोक सकती है.

बसपा प्रमुख ने बीजेपी के साथ हाथ मिलाने पर कहा कि यह समाजवादी पार्टी का दुष्प्रचार है. उन्होंने कहा, वह मुसलमानों में भ्रम पैदाकर उनके वोटों का बटवारा कराना चाहती है, ताकि बीजेपी को फायदा मिल सके. मैं स्पष्ट कर देना चाहती हूं कि बीएसपी न तो बीजेपी से मिलकर चुनाव लड़ेगी और न भविष्य में उससे मिलकर कभी सरकार बनाएगी.

दलित + मुस्लिम गठजोड़ को लेकर उन्होंने कहा कि मेरी पार्टी तो सर्वसमाज की पार्टी है. हम तो सभी समाज को साथ लेकर चलने वाले हैं. सभी समाज के लोग हमें वोट भी करते हैं लेकिन मुस्लिम समाज को दूसरी पार्टियां और खासतौर पर समाजवादी पार्टी बीजेपी के सत्ता में आने का खौफ दिखाकर वोट लेती हैं. मैं मुस्लिम समाज को बताना चाहती हूं कि बीजेपी को सत्ता में आने से केवल बीएसपी से ही रोक सकती है. कोई ऐसी विधानसभा सीट नहीं, जहां 40 से 50 हजार के बीच दलित वोट न हो.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें