maya1

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा देश भर में कथित गौरक्षा के नाम पर हो रहें मुस्लिम और दलित समुदाय के लोगों पर अत्याचार के बाद ख़ामोशी तोड़ते हुए शनिवार को को अपने ‘टाउनहॉल’ कार्यक्रम में जनता से सीधा संवाद करते हुए कहा था कि कुछ लोग पूरी रात असमाजिक कार्यों में लिप्त रहते हैं और दिन में गौरक्षक का चोला पहन लेते हैं.

और पढ़े -   कानून से ऊपर नहीं गौरक्षक, जो लोगों को बेरहमी से मार रहे है: केंद्रीय मंत्री अठावले

प्रधानमंत्री द्वारा दिये गए बयान इस बयान को लेकर बसपा सुप्रीमो मायावती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोलते हुए कहा कि दो साल से गोरक्षक मुस्लिमों और दलितों को निशाना बना रहे थे और प्रधानमंत्री मोदी कुंभकर्ण की तरह सो रहे थे.

बसपा प्रमुख ने गोरक्षकों पर दिए पीएम के बयान को राजनीति से प्रेरित बताते हुए आगे कहा कि अब वे कुंभकर्ण की नींद से इसलिए जगे हैं क्योंकि उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव नजदीक आ गए हैं.

और पढ़े -   पीड़ित दलितों से मिलकर मायावती ने कहा - योगी सरकार दलित विरोधी, संघर्ष के लिए रहो तैयार

वहीं मायावती ने अपने बागी नेता स्वामी प्रसाद मौर्य के बीजेपी में शामिल होने के सवाल पर कहा, ‘मैं आया राम, गया राम पर कोई टिप्पणी नहीं करना चाहती.’


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE