उन्नाव: आम आदमी प्रार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संजय सिंह ने कहा बीजेपी व अन्य राजनितिक पार्टियाँ हमे कभी मस्जिद के नाम पर लड़ती है कभी मंदिर के नाम पर ताकि हम ज़मीनी मुद्दों पर सवाल न उठा सके। हमे ऐसी राजनीती को समझना होगा।

आज उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले में चल रहे आप कार्यकर्ता सम्मलेन में संजय सिंह ने बीजेपी सरकार से लेकर उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी की सरकार पर निशाना साधते हुए कहा की मुझे याद है लालू प्रसाद यादव, ममता बैनर्जी, जयललिता, फारूक अब्दुल्लाह, राम विलास पासवान यह सब जब तक बीजेपी के साथ थे तो सांप्रदायिक थे कांग्रेस के साथ आये तो धर्म निष्पक्ष हो गए। न कोई धर्म निष्पक्ष और न कोई सांप्रदायिक। इन् लोगों को अगर हिन्दू मुसलमानों की लाश पर से गुज़र कर सत्ता हासिल हो तो यह बेमान नेता हमारी लाशों पर से गुज़र जाएंगे।

“यह लड़ते सिर्फ इसलिए है के 9000 करोड़ लूट कर विजय माल्या चला गए कोई सवाल न करे! उत्तर प्रदेश के 1000 से ज़यादा किसानो ने आत्महत्या कर ली कोई सवाल न करे! किसान हमे गेहू और चावल खिला देता है खुद ज़हर खता है,”उन्होंने कहा।

उत्तर प्रदेश में अव्यवस्था पर समाजवादी पार्टी सरकार को घेरते हुए संजय सिंह ने कहा प्रदेश में शिक्षा व्यवस्था खराब है गाँव में स्कूल नहीं है अगर स्कूल हैं तो छात्रों के बैठने के लिए जगह नहीं है। बिजली की हालत सबसे ज़यादा खराब है शहरों में 18-18 घंटे बिजली नहीं आती लेकिन वह चाहते हैं हम सवाल न करे।

उत्तर प्रदेश में चुनाव से पहले सांप्रदायिक माहौल खड़ा किया जा रहा है ताके वोटों का ध्रुवीकरण किया जा सके। इस पर बोलते हुए संजय सिंह ने कहा हम चुनाव में धार्मिक या जातिवाद के मुद्दों को नहीं उठाने वाले हैं बल्कि पूरा चुनाव जन समस्याओं पर ही लड़ेंगे क्यूंकि लोगो की समस्या का निंदा ज़रूरी है नाकि उनको धर्म व जाती के आधार पर बंटा जाए। अगर सियासी पार्टियाँ ऐसे ही मुद्दों उठा कर लोगों को लुभाने की कोशिश करेंगे लेकिन हम लोगों की स्थानीय समस्याओं के बारे में जागरूक करके धार्मिक मसलों से दूर रखेंगे। अब ऐसी राजनीती का अंत होना (hindkhabar)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें