पूर्व पीएम मनमोहन सिंह लंबे अरसे बाद शुक्रवार को संसद में आंध्र प्रदेश रिऑर्गनाइजेशन बिल पर मोदी सरकार पर आरोपों की झड़ी लगते हुए कहा, केंद्र आंध्र प्रदेश के स्पेशल पैकेज जारी करे. उन्होंने मोदी सरकार से दो साल पहले किए गए वादे को भी पूरा करने को कहा.

उन्होंने राज्यसभा में कहा कि मोदी सरकार की ओर से दो साल पहले किए गए वादे पूरे किए जाएं. कांग्रेस सदस्य के वी पी रामचंद्र राव के ‘आंध्र प्रदेश पुनर्गठन विधेयक’ को उच्च सदन ने लोकसभा अध्यक्ष के पास उसके भविष्य पर फैसला करने के लिए भेज दिया. टीडीपी सदस्य कई दिनों से संसद और उसके बाहर इस मांग को उठा रहे हैं.

और पढ़े -   सहारनपुर हिंसा पर नही दिया बोलने, मायावती ने दिया इस्तीफा

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने इस मसले पर जनता के साथ विश्वासघात करने का आरोप पीएम मोदी पर लगाया. उन्होंने ट्वीट किया, ‘मोदीजी, आपके लिए एक याद दिलाने वाली बात है. आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने का फैसला इस देश की संसद ने साल 2014 में किया था. आज आंध्र प्रदेश की पांच करोड़ जनता बीजेपी-टीडीपी को विश्वासघात करते हुए देख रही है.’

और पढ़े -   मोदी और आरएसएस चाहते हैं कि भारत अपनी आवाज ‘सरेंडर’ कर दे: राहुल गांधी

इस मुद्दे पर केंद्रीय मंत्री एम वेंकैया नायडू ने कहा कि कांग्रेस दोहरा मानदंड अपना रही है और अवसरवाद पर उतर आई है. उन्होंने लोकसभा में कांग्रेस नेता वीरप्पा मोइली के उस भाषण की याद दिलाई जिसमें उन्होंने आंध्र प्रदेश को विशेष दर्जा दिए जाने का विरोध किया था.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE