देश में लोगों की विशेषकर अल्प्संखयक मुस्लिम समुदाय के लोगों की पीट-पीट कर हत्या के मामले में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मोदी सरकार को निशाने पर लेते हुए कहा कि देश की समावेशी परिकल्पना पर हमला हो रहा है तथा देश घरेलू कुशासन के कारण बड़ी चुनौती का सामना कर रहा है.

सोनिया गांधी ने कहा कि देश के महान नेता एकता, शांति और इंसाफ के रास्ते पर चले, बंटवारे और संघर्ष के रास्ते पर नहीं. लेकिन आज हम जाति, वर्ग, मजहब और क्षेत्र के आधार पर तेजी से बंटते जा रहे हैं. उन्होंने कहा कि नेशनल हेराल्ड उन महापुरुषों का गवाह रहा है जो इस धरती की आत्मा की रक्षा और सुरक्षा के लिए अपनी महत्वाकांक्षाओं को छोड़ आगे बढ़े. ऐसे समय में जब हमें जाति और मजहब के आधार पर बांटा जा रहा है, हमें देश के महान नेताओं की ओर देखने की जरूरत है.

और पढ़े -   मोदी सरकार की बजट कटौती के चलते गई गोरखपुर में बच्चों की जान: राहुल गांधी

सोनिया ने कहा, “जब त्याग और संघर्ष की पीड़ा सहकर इतिहास बनयाा जा रहा था, उस समय अलग खड़े रहे लोग, जिनकी हमारे देश के संविधान में बहुत कम निष्ठा है, वो लोग आज ऐसा भारत बनाना चाहते हैं जो 15 अगस्त को आज़ाद हुए भारत से बिलकुल भिन्न हो.”

सोनिया ने कहा, “हमें भूलना नहीं चाहिए कि इन लोगों ने भारत के निर्माण के लिए कोई बलिदान नहीं दिया. भले ही उनकी भाषा आधुनिक है, लेकिन वो अपने संकीर्ण उद्देश्यों के लिए भारत को पीछे ले जाना चाहते हैं, उनकी आधुनिक जुमलेबाज़ी में पुरातनपंथी विचार छुपे हैं जो आधुनिक विचार और दृष्टिकोण के बिलकुल विपरीत हैं. इस पाखंड को बेनकाब करना और सच्चाई को सामने लाना हमारा फ़र्ज़ है. “

और पढ़े -   खुद को बचाने के लिए नीतीश और सुशील मोदी के सामने नाक रगड़ रहे: लालू यादव

उन्होंने कहा, “आज कट्टरपंथी ताक़तों ने भारत के आज़माए गए और सफल मूल्यों पर सवालिया निशान लगा दिया है. बढ़ती हुई असहिष्णुता के बीच द्वेषपूर्ण ताकतें लोगों को बता रही हैं कि क्या नहीं खाना चाहिए, किससे प्यार नहीं करना चाहिए और क्या विचार नहीं रखने चाहिए. चौकसी के नाम पर उपद्रव करने वाली संस्कृति इसे प्रोत्साहित कर रही है. क़ानून को लागू करने वाले लोग इन्हें सक्रिय साथ दे रहे हैं. इस तरह के उदाहरण लगभग हर दिन हमारी आत्मा को आहत कर रहे हैं.”

और पढ़े -   सपा नेता माविया अली का बयान, पहले हम मुस्लमान , फिर भारतीय

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE