kejriwal over jnu

1000 और 500 के नोट की अवैध होने की घोषणा के बाद आॅनलाइन शॉपिंग प्लैटफॉर्म पेटीएम की चांदी हो गई हैं. पेटीएम के ई-वैलेट में पैसे डालने में 1000 फीसदी का इजाफा हुआ है. पेटीएम ने नोट के अवैध होने की घोषणा के अगले दिन बुधवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की तस्वीर के साथ विज्ञापन जारी किये.

इन विज्ञापनों पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सवाल खड़े करते हुए ट्वीटर पर कहा कि ‘पीएम मोदी की घोषणा से सबसे ज्यादा फायदा पेटीएम को हुआ है. अगले दिन पीएम की तस्वीर विज्ञापनों में देखने को मिली. मिस्टर पीएम, डील क्या है?’

उन्होंने दुसरे ट्वीट में कहा, ‘बेहद शर्मनाक. क्या लोग चाहते हैं कि उनके पीएम प्राइवेट कंपनियों के लिए मॉडलिंग करें. कल को अगर ये कंपनियां कुछ गलत करती हैं तो इनके खिलाफ कार्रवाई कौन करेगा?’

जिसके बाद पेटीएम के फाउंडर विजय शेखर ने केजरीवाल को तुरंत जवाब दिया और कहा कि इससे सबसे बड़ा फायदा देश को होगा.

और पढ़े -   कोविंद को राष्ट्रपति बनाने के लिए दलित प्रेम नहीं बल्कि आरएसएस से जुड़ा होना है: मायावती

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE