गैर-मराठियों के ऑटो रिक्शा को जलाने संबंधी राज ठाकरे के बयान पर बिहार में राजनीति तेज हो गई है. बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने कहा है कि अगर राज ठाकरे के खिलाफ कार्रवाई नहीं की गई तो वो महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फण्डवीस को चूड़ियां भेजेंगे.

'राज ठाकरे पर कार्रवाई नहीं हुई तो भेजेंगे महाराष्ट्र के CM को चूड़ियां'

तेजस्‍वी ने कहा कि महाराष्ट्र चुनाव के दौरान भाजपा बड़ी-बड़ी बातें करती थी. अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के अध्यक्ष राज ठाकरे के खिलाफ कार्रवाई करें.

डिप्टी सीएम ने कहा कि प्रधानमंत्री ने चुनाव में बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने का वादा किया था. शनिवार को पीएम बिहार आ रहे हैं तो अपना वादा पूरा करें. पीएम मोदी ने जिस लहजे में बिहार की बोली लगा कर पैकेज की घोषणा की थी, उसी लहजे में बिहार की जनता से माफी मांगे.

तेजस्वी यादव ने कहा कि दीघा रेलवे पुल के कार्यक्रम में ना तो लालू यादव और ना ही मुझे बुलाया गया. इस पुल को लालू यादव ने शुरू करवाया. मेरे विधानसभा क्षेत्र में पीएम की सभा हो रही है लेकिन मुझे नहीं बुलाया गया है.

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी बिहार का हक दें, नहीं तो बिहार सरकार जानती है कैसे हक लिया जाता है.

इधर, जनता दल (युनाइटेड) के नेता और पूर्व मंत्री श्याम रजक ने कहा कि मनसे प्रमुख का यह बयान और ऐसी भाषा को किसी भी तरह से स्वीकार नहीं किया जा सकता. उन्होंने कहा कि राज इससे पहले भी गैर मराठियों के खिलाफ इस तरह की भाषा का इस्तेमाल कर चुके हैं.

भाजपा के वरिष्ठ नेता विनोद नारायण झा ने कहा कि संपूर्ण देष का कोई भी व्यक्ति ऐसे बयानों की प्रशंसा नहीं कर सकता. इस लोकतांत्रिक देश में कोई भी व्यक्ति कहीं भी आ और जा सकता है. अगर उत्तर भारत के लोग नहीं होंगे तो महाराष्ट्र ठहर जाएगा. (pradesh18)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें