भ्रष्टाचार के आरोप से घिरे बिहार के उपमुख्‍यमंत्री तेजस्‍वी यादव और मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार के बीच लम्बी मुलाकात हुई. मुलाक़ात के बाद उन्होंने कहा कि अगर उनकी पार्टी इस्तीफा मांगती है तो वे इस्‍तीफा दे देंगे.

दरअसल मुलाकात के बाद उनसे सवाल किया गया था कि  क्‍या नीतीश के कहने पर वे इस्‍तीफा देंगे? उन्‍होंने कहा कि हमारी पार्टी ने हमको विधायक दल का नेता चुना है. पार्टी जैसा कहेगी वैसा करूंगा. इस मसले पर जनता को सफाई देंगे. उन्‍होंने कहा कि मैं लोगों के बीच जाऊंगा और सारी बात बताऊंगा.

और पढ़े -   जब तिब्‍बती शरणार्थी तौर पर रह सकते हैं तो रोहिंग्‍या मुस्लिम क्‍यों नहीं: ओवैसी

45 मिनट तक चली नीतीश के साथ बैठक में तेजस्वी ने अपने ऊपर लगे आरोपों पर सफाई पेश की. हालांकि बैठक के बाद क्या फैसला हुआ इसके बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई.

ध्यान रहे लालू परिवार पर सीबीआई छापेमारी के बाद नीतीश कुमार की तेजस्वी के साथ यह पहली बैठक थी. कहा जा रहा है कि तेजप्रताप और तेजस्वी ने कार्यालय जाना छोड़ दिया है और उनके विभागों की महत्वपूर्ण फाइलें उनके घर पर जा रही हैं.

और पढ़े -   सुब्रमण्यम स्वामी ने की हिन्दुओं से अपील - मुस्लिमों में डाले फुट, करे एकता को खत्म

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE