विवादों में घिरे जाकिर नाइक के समर्थन में अब इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग उतर आई हैं. रविवार को पार्टी ने अपने रेजॉलूशन में नाइक को आतंकवाद का प्रचारक बताने के प्रयासों की आलोचना करते हुए कहा कि जाकिर हमेशा से आतंकवाद के खिलाफ बोलते रहे हैं. अब उनका शिकार किया जा रहा है.

पार्टी के सांसद ईटी मोहम्मद बशीर ने कहा कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस और कई केंद्रीय मंत्री मुस्लिम धर्मोपदेशक के प्रति पूर्वाग्रह ग्रस्त हैं. उन्होंने केंद्र में बीजेपी की सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि केंद्र सरकार अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता और धर्म के प्रचार पर रोक लगाने के लिए जाकिर नाइक की छवि को खराब कर रही है और उन्हें आतंक को बढ़ावा देने वाला बता रही है. इसी वजह से पूरी सरकार जाकिर के पीछे पड़ गई है.

उन्होंने आगे कहा कि जाकिर नाइक 1991 से ही जनता से जुड़े हुए हैं. नाइक ने हजारों भाषण दिए हैं, बहसें कराई हैं और कई किताबें भी लिखी हैं. उनकी कोई भी बात हिंसा या आतंक का समर्थन नहीं करती. नाइक ऐसे शख्स हैं, जिन्होंने इस्लामिक मान्यता में हमेशा शांति को बढ़ावा दिया है.


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें