bsp-chief-mayawati_650x400_71462198553

बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने केराना जाने के लिए भाजपा नेता संगीत सोम की निर्भय यात्रा और उसके जवाब में सपा नेता अयुल्य प्रधान की ‘सद्भावना यात्रा’ को आपसी मिलीभगत बताते हुए कहा कि इसका मकसद आगामी विधानसभा चुनाव से पहले सांप्रदायिक दंगे कराकर चुनावी लाभ उठाना है.

उन्होने आगे कहा कि कैराना से कथित पलायन के मामले को भाजपा सांप्रदायिक रंग देने के साथ-साथ उसका गलत राजनीतिक लाभ उठाने के लिए काफी जोर लगाए हुए हैं लेकिन सपा सरकार भी राजधर्म को भूलकर ऐसे तत्वों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं कर रही है.

मायावती ने राज्य सरकार से मांग करते हुए कहा भड़काने का काम करने वालों के खिलाफ तत्काल सख्त कार्रवाई की जाए। वरना उत्तर प्रदेश एक बार फिर सांप्रदायिक दंगे की आग में जलेगा। इसकी पूरी जिम्मेदारी सपा और उसकी सरकार की होगी।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें