नई दिल्ली। देश में आंतरिक सुरक्षा की स्थिति को ‘गंभीर’ बताते हुए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने आज उम्मीद जताई कि केंद्र सरकार आतंकी खतरे को समाप्त करने और नागरिक एवं सामरिक सम्पत्ति को पर्याप्त सुरक्षा प्रदान करने के लिए जरूरी कदम उठाएगी।

Congress suffered embarrassment,

कांग्रेस पार्टी के बयान के अनुसार, सोनिया ने पठानकोट आतंकी हमले के शहीदों को श्रद्धांजलि दी और वायु सेना स्टेशन परिसर में रहने वाले परिवारों और सामरिक सम्पत्ति की सुरक्षा पर ‘गहरी चिंता’ व्यक्त की जहां पिछले 48 घंटे से आतंकी घुसे हुए हैं और उनके खिलाफ आतंकवाद निरोधक अभियान जारी है।

इसमें कहा गया है कि गांधी ने सुरक्षा बलों के साहस को सलाम किया और उन सात शहीदों को श्रद्धांजलि दी जिन्होंने पठानकोट में पाकिस्तानी आतंकवादियों को खत्म करते हुए अपना बलिदान दिया। पार्टी के बयान के अनुसार उन्होंने उम्मीद जाहिर की कि और आतंकी माड्यूल मौजूद होने संबंधी खुफिया रिपोर्ट को देखते हुए केंद्र सरकार आतंरिक सुरक्षा की गंभीर स्थिति के प्रति सजग होगी और आतंकवादी खतरों को समाप्त करने तथा नागरिकों एवं सामरिक सम्पत्ति की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए पर्याप्त कदम उठायेगी।

पठानकोट वायु सेना स्टेशन में घुसे आतंकवादियों के खिलाफ अभियान आज तीसरे दिन में प्रवेश कर गया है और रात भी रुक रुक कर गोलीबरी जारी रही ।

सुरक्षा बलों ने कल एक और आतंकवादी को मार गिराया है। इस हमले में अब तक सात सुरक्षाकर्मी शहीद हुए हैं जिसमें एनएसजी का एक लेफ्टिनेंट कर्नल शामिल है। शनिवार को चार आतंकवादी मारे गए थे। साभार: ibnlive


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें