Congress suffered embarrassment,

आज पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पुण्यतिथि पर कांग्रेस की ओर से आयोजित एक स्मृति सभा में सोनिया गांधी ने पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुवे कहा कि कोई भी नाकामी स्थायी नहीं होती। अपने सिद्धांतों को ताक पर रखकर हासिल की गई कामयाबी लंबे समय तक नहीं टिकती। उन्होंने कहा, यदि कोई सिद्धांतों का पालन करता है, तो कोई भी नाकामी स्थायी नहीं होती।

इस आय़ोजन के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी भाषण देते हुए भावुक हो उठी। सोनिया ने राजीव के सपने को साकार करने और उनके मार्ग पर चलने की बात की। सोनिया ने कहा कि उनका सपना एक सशक्त और खुशहाल भारत का था, जिसे हमें पूरा करना है। भाषण में रुंधी हुई आवाज में सोनिया ने कहा कि समाज राजनीति और अर्थव्यवस्था में हम जिन फायदों का जिक्र करते है, उनकी शुरुआत राजीव जी ने ही की थी।

सोनिया ने कहा, हमें सामाजिक सद्भाव को बढ़ावा देकर और उसे मजबूत कर भारतीय सरजमीं पर गिरे राजीव के खून के एक-एक कतरे का मोल चुकाना है। यही हमारी सच्ची श्रद्धांजलि होगी। तभी हम कह सकेंगे कि राजीव हम सब में हैं।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें