Courtesy: ANI

मद्रास हाईकोर्ट के फैसले के बाद महाराष्ट्र में सत्ताधारी दल भाजपा-शिवसेना ने राज्य में वंदे मातरम गाना अनिवार्य करने की मांग का महाराष्ट्र में सपा के विधायक अबू आसिम आजमी ने तीखा विरोध किया है.

आजमी ने कहा कि वह वंदे मातरम का बेहद सम्मान करते हैं, लेकिन वह इसे किसी भी परिस्थिति में नहीं गाएंगे, चाहे कुछ भी हो जाए. उन्होंने कहा, वंदे मातरम गाने को लेकर भले ही हमें मुल्क से निकाल दो, लेकिन सच्चा मुसलमान वंदे मातरम नहीं गाएगा.

और पढ़े -   सपा नेता माविया अली का बयान, पहले हम मुस्लमान , फिर भारतीय

आजमी ने कहा, “जब भारत का विभाजन हुआ, तब कहीं यह बात नहीं कही गई कि हम मुस्लिम यदि भारत में रुकते हैं तो हमें इसे गाने के लिए मजबूर किया जाएगा. आप मुझे गोली मार सकते हैं या देश से बाहर फेंक सकते हैं, लेकिन हम इसे नहीं गाएंगे.

दरअसल, बीजेपी विधायक राज पुरोहित ने महाराष्ट्र में स्कूल-कॉलेज और सरकारी कार्यालयों में वंदे मातरम गाना अनिवार्य किये जाने की मांग की है.

और पढ़े -   अगले साल विधानसभा चुनावो के साथ ही हो सकते है लोकसभा चुनाव

पुरोहित ने कहा, “मैं मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने अनुरोध करूंगा कि महाराष्ट्र को मद्रास उच्च न्यायालय द्वारा हाल ही में वंदे मातरम गाना अनिवार्य करने वाले फैसले को महाराष्ट्र में भी अपनाया जाए.”


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE