bjp-break-relations-with-shivsena

महाराष्ट्र: उत्तराखंड के सियासी दाव पेंच के बीच आरोप प्रत्यारोप का सिलसिला शुरू हो चूका है| उत्तराखंड के ताज़ा घटनाक्रम को लेकर शिवसेना भी इसमें कूद पड़ी है प्रधानमंत्री मोदी पर आरोप लगाते हुए शिवसेना के अख़बार सामना ने कहा की उन्होंने (मोदी) अपने साथ साथ राष्ट्रपति की भी बेईज्ज़ती करवाई है

इस मामले में केंद्र सरकार को तो जो मुंह की खानी पड़ी है लेकिन उसके साथ ही राष्ट्रपति की प्रतिष्ठा भी धूमिल हुई है।  शिवसेना ने कहा है कि मोदी ने अपने राजनीतिक स्वार्थ के लिए जो फैसले लिए थे अदालत ने उसे न मानकर मोदी के इरादों को नकामयाब कर दिया है।

उत्तराखंड मामले में कोर्ट का यह कहना है कि राष्ट्रपति से निर्णय में गलती हुई है इसका मतलब ये है कि मोदी सरकार से गलती हुई। गौरतलब है कि नैनीताल हाईकोर्ट ने उत्तराखंड में राष्ट्रपति शासन लगाने के केंद्र सरकार के फैसले को खारिज कर दिया था और हरीश रावत सरकार को विधानसभा में 29 अप्रैल को बहुमत साबित करने को कहा था।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें