ओवैसी के बयान पर नराजगी जाहिर करते हुए शिवसेना ने कहा कि अगर ओवैसी भारत माता की जय नहीं बोल सकते तो उन्हें पाकिस्तान चले जाना चाहिए।

रविवार को एआईएमआईएम के प्रमुख और सांसद असदुद्दीन ओवैसी द्वारा शिवसेना पर की गई टिप्पणी के बाद दोनों पार्टियों ने एक-दूसरे के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। महाराष्ट्र के लातूर जिले में रैली के दौरान बोलते हुए ओवैसी ने कहा था कि, “गृहमंत्री राजनाथ सिंह के सामने बाबा (श्री श्री रविशंकर)  बोल दिए पाकिस्तान जिंदाबाद, पाकिस्तान जिंदाबाद। मैं टीवी पर देख कर सोच रहा था कि यह पाकिस्तान का टीवी  है या इंडिया में यह हो रहा है। गृहमंत्री के सामने नारे लग रहे हैं। यह तो ऐसा हो गया कि शिवसेना को कोई बड़ा नेता खड़ा हो और उसके सामने कोई आकर बोल दे असदुद्दीन ओवैसी जिंदाबाद”

और पढ़े -   रोहिंग्या शरणार्थियों को भी देश रहने का है मौलिक अधिकार: ओवैसी

इस बयान के बाद शिवसेना और एआईएमआईएम के बीच बयानों का दौर शुरू हो गया है। ओवैसी के बयान पर नराजगी जाहिर करते हुए शिवसेना ने कहा कि अगर ओवैसी भारत माता की जय नहीं बोल सकते तो उन्हें पाकिस्तान चले जाना चाहिए।शिवसेना के नेता रामदास कदम ने कहा कि ओवैसी भारत में रहने के लायक नहीं हैं क्योंकि वो उस देश का सम्मान करना नहीं जानते जिसने उन्हें इतना कुछ दिया। शिवसेना ने कहा कि ओवैसी को देश से बाहर निकाल देना चाहिए।

और पढ़े -   आरएसएस ने बीजेपी को चेताया, कम हो रही मोदी सरकार की लोकप्रियता

एआईएमआईएम ने भी शिवसेना के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि शिवसेना कौन होती है उनके नेता को पाकिस्तान जाने के लिए कहने वाली? एआईएमआईएम प्रवक्ता वारिस पठान ने कहा कि वो भारत के निवासी हैं और कोई भी उन्हें देश छोड़ने के लिए मजबूर नहीं कर सकता। (Jansatta)


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE