akhilesh-mulayam_650x400_71476693505

लखनऊ | पिछले एक महीने से मुलायम परिवार में चल रही कलह समाप्त होती दिख रही है. खबर यह है की अखिलेश , शिवपाल समेत सभी बर्खास्त मंत्रियो को सरकार में वापिस लेने के लिए तैयार हो गए है. हालांकि सुलह का क्या फार्मूला निकाला गया है , इसकी सूचना अभी नही मिली है. इसी बीच मुलायम के भाई , रामगोपाल यादव ने आज फिर एक नया पत्र लिखकर मुलायम को कठघरे में खड़ा किया है.

और पढ़े -   स्वतंत्रता दिवस और गणतंत्र दिवस बन गए 'पिकनिक डे' - शिवसेना

मंगलवार को शिवपाल यादव ने मीडिया से मुखातिब होते हुए कहा की पार्टी में कोई कलह नही है, अब सब ठीक हो चुका है, जो नेता जी कहेंगे वो उसी का पालन करेंगे. सरकार में वापसी के सवाल पर शिवपाल ने कहा की जो नेता जी का आदेश होगा उसका पालन किया जाएगा. सुलह की अटकलों के बीच अखिलेश ने मुलायम सिंह यादव से उनके आवास पर जाकर अकेले मुलाकात की.

और पढ़े -   स्वतंत्रता दिवस पर छलका रविश का दर्द कहा, जिस चैनल पर आप आजादी का जश्न देख रहे है वो खुद आजाद नही

वही शिवपाल यादव , अखिलेश के आवास पर उनसे मिलने पहुंचे लेकिन एक घंटा इन्तजार करने के बाद भी अखिलेश उनसे मिलने नही पहुंचे. खबर यह भी है की अखिलेश कल समाजवादी पार्टी की बैठक में हुई नोक झोंक से नाराज है. इसी बीच रामगोपाल यादव ने आज फिर मुलायम सिंह पर हमला बोला है. रामगोपाल यादव ने एक पत्र लिखकर मुलायम पर आरोप लगाया की उन्हें अखिलेश की बढती लोकप्रियता से जलन हो रही है.

और पढ़े -   बगावती तेवर अपनाने पर अब शरद यादव पर गिरी गाज, राज्यसभा में पार्टी नेता के पद से हटाया

रामगोपाल ने कहा की वैसे हर बाप चाहता है की उसका बेटा , उससे भी ज्यादा नाम कमाए और बाप का नाम रोशन करे, लेकिन यहाँ बिलकुल उल्टा हो रहा है. उधर मुलायम की शिवपाल और अमर सिंह का साथ न छोड़ने के एलान के बाद अब गेंद अखिलेश के पाले में है. फ़िलहाल मुलायम ने अखिलेश की शर्तो को मानने से मना कर दिया है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE