इटावा | विधानसभा चुनावो से पहले समाजवादी पार्टी में मची कलह कुछ दिन के लिए शांत जरुर हो गयी थी लेकिन खत्म नही हुई थी. चुनावो में करारी हार झेलने के बाद यह कलह एक बार फिर सतह पर आ गयी है. अखिलेश यादव के चाचा शिवपाल यादव लगातार उन पर दबाव बना रहे है की वो मुलायम सिंह को वापिस पार्टी की कमान सौप दे. अब सारी संभावनाए खत्म होने के बाद शिवपाल यादव ने नयी पार्टी बनाने की घोषणा कर दी है.

हालाँकि विधानसभा चुनावो से पहले ही इस बात की पूरी आशंका थी की समाजवादी पार्टी दो फाड़ हो सकती है लेकिन जो उस समय नही हुआ वो अब हो गया. इटावा में मुलायम सिंह यादव से बात करने के बाद शिवपाल यादव ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा की हमने सामजिक न्याय के लिए नयी पार्टी बनाने का फैसला किया है. इस पार्टी के राष्ट्रिय अध्यक्ष मुलायम सिंह होंगे.

शिवपाल ने नयी पार्टी का नाम ‘समाजवादी सेक्युलर मोर्चा’ होगा. इटावा में अपने बहनोई डॉ अजंट सिंह के घर पर मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा की नेताजी को सम्मान दिलाने और समाजवादियो को एक जुट करने के लिए इस मोर्चे का गठन किया जा रहा है. शिवपाल के इस कदम पर न ही अखिलेश यादव और न ही उनके चाचा रामगोपाल यादव की तरफ से कोई प्रतिक्रिया आई है.

बताते चले की जसंवंत नगर से समाजवादी पार्टी के टिकेट पर चुनाव लड़ने वाले शिवपाल ने चुनाव प्रचार के दौरान ही कहा था की वो चुनाव बाद नयी पार्टी का गठन करेंगे. हालाँकि इसके लिए उन्होंने काफी समय लिया और मुलायम सिंह यादव से सलाह लेकर नई पार्टी की घोषणा कर दी. मालूम हो की शिवपाल ने दो दिन पहले रामगोपाल यादव पर हमला बोलते हुए उनको शकुनी करार दिया था. इस पर रामगोपाल ने पलटवार करते हुए कहा की वो पहले पार्टी का संविधान पढ़े. वो खुद भी पार्टी के सदस्य नही बने है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE