नई दिल्ली: शिवसेना के सांसद ने लोकसभा में देश के राष्ट्रगान में बदलाव किए जाने की मांग उठाई। सदन में नियम 377 के तहत शिवसेना के अरविंद सावंत ने यह मामला उठाते हुए कहा कि देश के राष्ट्रगान को महान कवि रविन्द्र नाथ ठाकुर ने लिखा था और इसे संसद ने देश के राष्ट्रगान के रूप में मंजूरी दी थी।

जब देश में कोई 'सिंध' नाम का प्रांत नहीं तो राष्ट्रगान में 'सिंध' क्यों : शिवसेना सांसदउन्होंने कहा कि राष्ट्रगान की तीसरी पंक्ति में ‘‘पंजाब , सिंध , गुजरात… ’’ की बात कही गई है। उन्होंने सदन का ध्यान आकृष्ट किया कि सिंध नाम का कोई प्रांत भारत में नहीं है इसलिए संसद को राष्ट्रगान में जरूरी संशोधन करने की पहल करनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि संसद को राष्ट्रगान में सही शब्दों का बदलाव करने के लिए इसमें अविलंब संशोधन करना चाहिए। (NDTV)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें