शिवसेना ने उत्तराखंड में राष्ट्रपति शासन लगाने के बीजेपी के फैसले पर जोरदार हमला करते हुवे अपने मुखपत्र ‘सामना’ में लिखा है कि उत्तराखंड में राष्ट्रपति शासन लगाकर बीजेपी ने अपने ही पैरों पर कुलहाड़ी मार ली है। वहां जो भी हुआ पीएम मोदी की मर्जी से हुआ।

इस मामले में कोर्ट की दखलअंदाजी नेताओं की गलतियों का नतीजा है। सामना में छपे संपादकीय में केंद्र पर तीखा प्रहार करते हुए लिखा है ‘तानाशाह मत बनो। तानाशाह हिटलर का भी अहंकार खत्म हो गया था और उसे खुद को गोली मारनी पड़ी थी। इसलिए लोकतंत्र के महत्व को समझो।’

और पढ़े -   कांग्रेस ने उठाया कोविंद को लेकर सवाल - आखिर मुस्लिमों और ईसाईयों का विरोध करने वाले का समर्थन क्यों

Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE