केंद्र और महाराष्ट्र की सत्ता में बीजेपी की अहम सहयोगी शिवसेना ने मोदी सरकार पर नोटबंदी और GST तीखा हमला बोला है.

मुखपत्र सामना में पार्टी प्रमुख ने कहा कि जीएसटी की वजह से पिछले चार महीने में पंद्रह लाख लोग बेरोजगार हुए हैं. नौकरियां छूट गईं, जीएसटी की वजह से जिन पंद्रह लाख लोगों की नौकरियां गईं उनकी दाल-रोटी की सरकार द्वारा क्या व्यवस्था है? नोटबंदी में भी सरकार नीतियां सही नहीं थीं, कई लोगों के बेवजह मौत हो गई.

उन्होंने कहा, ‘आज ही मैंने पढ़ा कि नोटबंदी के कारण 15 लाख लोगों का रोजगार चला गया. इसका अर्थ यह है कि इससे 60 लाख लोग प्रभावित होंगे. इन 60 लाख लोगों को दाल-रोटी कौन देगा?’ उन्होंने कहा, ऐसे में आपको इन लोगों को नौकरी देनी चाहिए.

साथ ही उद्धव ने सवाल उठाया कि क्या आपके पास स्टार्ट अप और मेक इन इंडिया को बैलेंस करने की कोई योजना है, वह उस वक्त जब आपके फैसलों से लोगों की नौकरी जा रही है. क्या यह सवाल उठाने के लिए आप हमें देशद्रोही कहेंगे. उन्होंने बीजेपी के अच्छे दिन के वादे पर कटाक्ष करते हुए कहा कि अच्छे दिन सिर्फ सरकारी विज्ञापनों में ही दिखाई दे रहे हैं, बाकी सिर्फ आनंद ही आनंद है.


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

अभी पढ़ी जा रही ख़बरें

SHARE