shehla-rashid

नयी दिल्ली – पूर्व HRD मिनिस्टर स्मृति ईरानी की विदाई को JNU छात्र अपनी जीत के तौर पर देख रहे है यह कहना है जवाहरलाल नेहरू विश्‍वविद्यालय छात्र संघ उपाध्यक्षा शेहला रशीद का. शेहला ने स्मृति ईरानी को मानव संसाधन मंत्रालय से बाहर किये जाने को छात्र आंदोलन खासकर रोहित वेमुला आंदोलन की जीत बताया !

उन्होंने कहा कि ये इसी आंदोलन का नतीजा है कि स्मृति ईरानी को मानव संसाधन मंत्रालय से हटाकर एक तुच्छ मंत्रालय में भेजा गया। शेहला ने बताया कि सरकार के आक्रमणों ने सभी विद्यार्थियों को एक होने पर मजबूर कर दिया है !
शेहला ने आगे कहा कि सरकार के समर्थन से विद्यार्थी परिषद और विश्विद्यालय प्रशासन के बीच एक नेक्सस चल रहा है जिससे विश्विद्यालय प्रशासन का भ्रष्टाचार कभी सामने नहीं आने दिया जाएगा। उन्होंने शिक्षा और छात्रवृत्तियों में हो रही कमियों पर भी चिंता जताई !

पूरी बातचीत आप यहाँ देख सकते हैं।

Video साभार – upkhabar.in


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें