आल इंडिया मजलिस-ए-इत्तिहाद उल मुसलमीन (AIMIM) का ध्यान अब उत्तर प्रदेश पर केंद्रित हो गया है। पार्टी यहां सपा और बसपा के समर्थन आधार पर धावा बोलने की तैयारी में लगी है।

SP lowered underdog candidate in the heartland Owaisi,

एआईएमआईएम के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि हम उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव लड़ेंगे। उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव 2017 के शुरू में कराया जाना है। अपनी योजना को विस्तार से सामने रखते हुए ओवैसी ने बताया कि जब समाजवादी पार्टी लोगों से किए गए वादे पूरे करने विफल है, तब वह राज्य में एआईएमआईएम का आधार मजबूत करने में जुटे हैं।

और पढ़े -   पीड़ित दलितों से मिलकर मायावती ने कहा - योगी सरकार दलित विरोधी, संघर्ष के लिए रहो तैयार

सांसद ओवैसी ने स्पष्ट किया कि अभी यह कह पाना जल्दबाजी होगी कि उत्तर प्रदेश में पार्टी किसी दूसरी पार्टी के साथ गठबंधन करेगी या नहीं पर उन्होने यें जरूर कहा की अगर बसपा सुप्रीमो मायावती सीबीआई के खौफ से बीजेपी से गठबंधन करती हैं तो वो यूपी में अकेले अपने दम पर चुनाव लडेंगें।

वर्ष 2014 में हुए लोक सभा चुनाव में उत्तर प्रदेश में भाजपा का जनाधार बढ़ता नजर आया, जबकि पिछले कई दशकों तक राज्य में सपा और बसपा का ही दबदबा बना रहा। अपने विवादास्पद बयानों के कारण ओवैसी विवादों में रहे हैं। उन्होंने कहा कि सपा सरकार ने ऐन वक्त पर उनकी सभी रैलियां और सभाओं को निरस्त कर दिया और उन्हें उत्तर प्रदेश में घुसने नहीं दिया जा रहा है

और पढ़े -   दिल्ली बीजेपी दो फाड़ होने की कगार पर मनोज तिवारी और विजय गोयल में बढ़ी तकरार

Source:P2N


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE