shankaracharya-narendranand-saraswati-kashi-hindu-terrorism-family-planning

नई दिल्ली। काशी सुमेर पीठ के शंकराचार्य नरेंद्रानंद सरस्वती आजकल चर्चा में है जहाँ उनका बेहद विवादित बयान सामने आया है वहीँ लोगो ने इस बयान का विरोध करना भी शुरू कर दिया है। अपने बयान में शंकराचार्य ने हिंदुओं को अधिक से अधिक बच्चे पैदा करने की बात कही है। उन्होंने कहा है कि जहां-जहां हिंदू घटा है वहां-वहां आतंकवाद बढ़ा है। इसलिए परिवार नियोजन की बात करने वाले मूर्ख हैं।

और पढ़े -   राजनाथ सिंह: रोहिंग्याओं को वापस लेने के लिए म्यांमार तैयार, अब आपत्ति क्यों ?

गौरतलब है की इससे पहले भी साक्षी महाराज ने हिन्दू औरतों से चार-चार बच्चे पैदा करने को कहा था लेकिन उनसे भी एक कदम आगे बढ़ते हुए नरेंद्रानंद सरस्वती ने यहाँ तक कह दिया की जिनकी दो से अधिक संताने है वो हमे दे दे। मोदी सरकार के कामकाज की तारीफ करते हुए उन्होंने व्यंग्य भी कसा कि केंद्र के कुछ मंत्री अयोग्य हैं, उन्हें हटा देना चाहिए। हालांकि उन्होंने किसी का नाम नहीं लिया। जगतगुरू श्री सरस्वती ने भी कहा कि अगर दशरथ परिवार नियोजन अपनाते तो भरत जैसा भाई कैसे मिलता?

और पढ़े -   BHU मामले में कांग्रेस का बीजेपी पर हमला - 'बेटी बचाओ का नारा बेटी पिटवाओ में बदल गया'

उन्होंने कहा कि 900 आईएएस, 1800 इंजीनियर, 5200 डॉक्टर जो इस समय देश की सेवा कर रहे हैं, अपने मां-बाप की चौथी या पांचवी औलाद हैं। जगतगुरू ने बेटी बढ़ाओ-बेटी पढ़ाओ के साथ बेटा बढ़ाओ का नारा देते हुए कहा कि जिनकी दो से अधिक संताने हैं वे हमें दे दें, हम उन्हें भारतीय संस्कृति का संवाहक बनाएंगे।


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें



Facebook Comment
loading...
कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें

SHARE