Sitaram-Yechury-620x400

मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के महासचिव सीताराम येचुरी ने शनिवार को केंद्र की मोदी सरकार पर कारपोरेट कंपनियों का कर्ज माफ करने का विरोध करते हुए कहा कि  प्राइवेट कंपनियों द्वारा नेशनलाइज्ड बैंकों से लिया गया लोन 2जी स्पेक्ट्रम स्कैंडल से 10 गुना बड़ा घोटाला है।

उन्होंने कहा कि भारतीय कॉरपोरेट ने राष्ट्रीयकृत बैंकों से 11 लाख करोड़ से भी अधिक कर्ज लिए, जिनका उन्होंने भुगतान नहीं किया। उनसे वसूली के लिए सरकार ने कुछ नहीं किया, बल्कि गत दो वर्षो में 1.12 लाख करोड़ की रकम माफ कर दी।

फेसबुक पर येचुरी ने केन्द्र सरकार द्वारा बैड बैंक बनाए जाने का विरोध करते हुए कहा कि बैड बैंक बनाने का आइडिया गलत है, क्योंकि इससे बड़े डिफॉल्टर्स भयमुक्त हो जाएंगे। यह सारा पैसा जनता का है। इसलिए बैड बैंक बनाने के बजाए सरकार को कॉरपोरेट पर नकेल कसते हुए उनसे कर्ज के पैसे रिकवर करने की सोचनी चाहिए।

येचुरी ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर कर्ज लेकर न लौटाने वाले 100 शीर्ष कर्जदारों का नाम सार्वजनिक कर उन्हें शर्मसार करने को कहा है।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें