_635c3994-ce44-11e5-9215-0a2a26aeb03b

नई दिल्ली | नोट बैन करने की मोदी सरकार की घोषणा पर प्रतिक्रिया देते हुए आम आदमी पार्टी ने कहा की यह सरकार का तुगलकी फरमान है , इससे देश की जनता में त्राहि त्राहि मच गयी है. कालेधन और भ्रष्टाचार रोकने की सरकार की मंशा पर सवाल उठाते हुए आम आदमी पार्टी ने कहा की 2000 का नोट जारी कर कैसे कालाधन और भ्रष्टाचार रुक सकता है. आप ने मोदी सरकार पर अपने करीबियों के माल की सेटिंग पहले ही कराने का भी आरोप लगाया.

बुधवार को एक प्रेस कांफ्रेंस करके आप नेता संजय सिंह ने कहा की आम आदमी पार्टी देश से भ्रष्टाचार और कालाधन खत्म करने के लिए प्रतिबद्ध है और इसके लिए हमारी तरफ से प्रयास भी जारी है. कल मोदी जी ने घोषणा करके रातो रात सभी 500 और 1000 के नोट को बंद करने का जो तुगलकी फरमान जारी किया उससे पुरे देश में हलचल मची हुई है. भ्रष्टाचार और कालेधन पर कार्यवाही के नाम पर की गयी इस घोषणा से कालाधन और भ्रष्टाचार कैसे खत्म होगा यह हमारी समझ नही आ रहा है.

संजय सिंह ने आगे कहा की जैसे खबर आ रही है की यह योजना छह महीने पहले से ही चल रही थी तो क्या इन छह महीनो में मोदी जी ने अपने नेता येदुरप्पा, शरद पंवार, सुखबीर सिंह बदल और बीजेपी के कुछ नेताओ के माल की सेटिंग पहले ही करा दी? इसका कारण यह है की ये सभी नेता इस फैसले की तारीफ कर रहे है. आप अगर कालेधन पर कार्यवाही करना चाहते थे तो आपके पास स्विस बैंक अकाउंट होल्डर की लिस्ट है, पनामा पेपर लीक वालो की लिस्ट है, लोन डिफाल्टर विजय माल्या जैसो की लिस्ट है, पहले इन पर कार्यवाही करनी चाहिए थी.

संजय सिंह ने कहा की आपने इन पर कार्यवाही करने की बजाय रातो रात इन नोटों को बंद कर दिया. सोचिये मोदी जी उन लोगो का क्या होगा जो एक दिन दिहाड़ी से 500 रूपए कमाते है , वो अपने बच्चे का दूध नही ला पाए, घर के लिए आटा नही ला पाए, उनके पास बैंक अकाउंट भी नही है. वो आम आदमी जिसके घर शादी है , उसका क्या हो रहा होगा. जिसका रिश्तेदार करीबी अस्पताल में है , उसके साथ क्या हो रहा होगा. आपके इस तुगलकी फरमान की वजह से 125 करोड़ लोग तंग है.

संजय सिंह ने जेटली पर कटाक्ष करते हुए कहा की जेटली जी कहते है की आप जो पैसा जमा करेगे उस पर इनकम टैक्स लगेगा. जिस मजदूर , किसान ने अपनी पूरी जिन्दगी में पाई पाई जोड़कर 5 या 6 लाख रूपए जमा किये थे ,अपनी बेटी की शादी के लिए, अब आप कह रहे है की उस रकम पर टैक्स लगेगा. आपने यह कदम इसलिए उठाया की कालेधन और भ्रष्टाचार पर लगाम लगेगी. 1000 और 500 का बंद करके आप 2000 का नोट ला रहे हो इससे कैसे कालाधन रुकेगा, आप समझा सकते है.

2000 के नोट में चिप की अफवाह पर बोलते हुए संजय सिंह ने कहा की ये वो संघी है जो गणेश की मूर्ति को दूध पिला देते है. मोदी जी आप खुद कहते थे की बड़े नोट भ्रष्टाचार और कालेधन का सूचक है तो अब 2000 और 500 का नोट चलाने की क्या मजबूरी है?


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें