राजस्थान प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट ने कहा कि हिंदुत्व पर किसी का कोई पेटेंट नहीं है। दरअसल, पायलट न्यूज 24 और ISOMES के कार्यक्रम ‘मंथन’ में बोल रहे थे। सवाल-जावब के बीच उन्होंने मोदी सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि देश को एक रखने के लिए जिस कांग्रेस ने जो बलिदान दिए हैं आज उन्हें राष्ट्रभक्ति का पाठ पढ़ाया जा रहा है।

Sachin Pilot--621x414

संसद में हंगामे पर बोले पायलट…
हंगामेदार बजट सत्र पर पायलट ने कहा कि HRD हर जगह अपनी मानसिकता थोप रहा है। रोहित वेमूला दलित था या नहीं इस पर चर्चा हो रही है। हैरत की बात है कि दाल के दाम बढ़ रहे हैं और तेल के दाम बढ़ रहे हैं लेकिन उन पर चर्चा नहीं हो रही। जब पार्टी विपक्ष में होती है तो कुछ और अब सत्ता में हैं तो मानक कुछ और। उन्होंने मोदी सरकार के काम-काज को तानाशाही रवैया करार देते हुए उन्होंने कहा कि तानाशाही का रवैया सरकार में नहीं चलता है, संसद को सुचारू चलाना सरकार की जिम्मेदारी है। आज तो पेट्रोल 18 रुपये लीटर बिकना चाहिए।

हार पर क्या बोले पायलट
2014 में मिली हार पर पायलट ने कहा कि हार का अंतर इतना ज्यादा होगा इसकी हमें भी उम्मीद नहीं थी। सुहाने सपने देखकर लोगों ने बीजेपी को वोट दिया। वैसे हार-हार होती है अंतर चाहे जितना हो। बहुत कम समय में हम ताकतवर होकर उभरेंगे। मैं मानता हूं कि जनता ने 2014 के चुनाव में कांग्रेस को विपक्ष में बैठने का आदेश दिया। सत्ता के लोग बोलते हैं कि कांग्रेस मुक्त भारत बनाना चाहते हैं।

और क्या कहा सचिन पायलट ने…
> लोग गांधी परिवार के नाम पर गुमराह करने की कोशिश करते हैं।
> हिंदुत्व किसी का कोई पेटेंट नहीं है… लेकिन वोट के लिए उनका ध्रुव्रीकरण सही नहीं है।
> देश को एक रखने के लिए कांग्रेस ने जो बलिदान दिए हैं..उन्हें राष्ट्रभक्ति का पाठ पढ़ाया जा रहा है।
> कांग्रेस ने अपने मंत्री पवन बंसल का तुरंत इस्तीफा लिया था, बीजेपी ने कितने लोगों से इस्तीफे लिए हैं।
> नरेंद्र मोदी अगर कोई काम नहीं कर रहे..तो सवाल पूछने का अधिकार किसी के पास तो होना चाहिये। (News24)


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें