नई दिल्ली। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ सोशल मीडिया पर अपने सदस्यों और समर्थकों के लिए 20 फरवरी को राम मंदिर को लेकर एक ट्रेनिंग सेशन आयोजित करने जा रहा है। इसे ‘राम मंदिर, एक वास्तविकता’ का नाम दिया गया है। इस पहल के जरिये सोशल मीडिया के जानकार 250 कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षित किया जाएगा।

rss-strategy-to-spread-hindu-first-ideology-to-all-corners-of-india

आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने हाल में कहा था कि राम मंदिर के निर्माण का अभियान तेज करने की जरूरत है। माना जा रहा है कि इसके बाद ही संघ ने राम मंदिर निर्माण के मुद्दे को तेज करने के लिए सोशल मीडिया पर आंदोलन की शुरुआत की है।

सोशल मीडिया पर ट्रेनिंग सेशन संघ के लिए नई बात नहीं है। इससे पहले भी संघ असहिष्णुता और धारा 370 के मामले में इस तरह के सेशन पहले कर चुका है। आरएसएस के एक प्रचारक ने नाम नहीं छापने की शर्त पर बताया क‍ि हम इस मामले के तथ्यों को सामने रखना चाहते हैं।

अदालतों के फैसले, आर्कियोलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया के अध्‍ययनों को ट्विटर के जरिये लोगों तक फैलाया जाएगा। इसके साथ ही अयोध्या को भगवान राम का जन्मस्थल मानते हुए वहां मंदिर बनाने की बात कहने वाले कुछ मुसलमानों के बयान भी इसके जरिये लोगों तक पहुंचाया जाएगा।

प्रचारक ने कहा कि जब इस तरह की सूचना सोशल मीडिया पर पोस्ट की जाएगी, तो लोगों को सच का पता चलेगा। राम मंदिर को लेकर जो सेशन किया जाना है, उसके लिए स्वयंसेवकों को फॉर्म बांटा गया है। इस फार्म में उन्हें कॉन्‍टेक्‍ट डिटेल के साथ यह जानकारी देनी है कि फेसबुक, ट्विटर, वॉट्सऐप में से किस प्लैटफॉर्म पर वे सबसे ज्यादा सक्रिय हैं।

ट्रेनिंग सेशन का आयोजन करने वालों ने बताया कि जिन कार्यकर्ताओं को ट्विटर पर बड़ी संख्या में लोग फॉलो करते हैं, वे इसे हैंडल करेंगे। पिछले महीने संघ प्रमुख मोहन भागवत ने लोगों से अपील की थी कि वे मंदिर निर्माण के लिए साथ आएं। भागवत ने कहा था कि मंदिर का निर्माण मेरे जीवन काल में होगा।

हमें सतर्कता के साथ इसकी योजना बनाने की जरूरत है। हमें जोश और होश के साथ यह काम करना होगा। इस भाषण के बाद संघ के आधिकारिक टि्वटर हैंडल से इस मुद्दे पर भागवत के कोट भेजे गए थे। इनमें से एक ट्वीट में गृहमंत्री सरदार पटेल के प्रयासों से सोमनाथ मंदिर के पुनरुद्धार का जिक्र किया गया था।


लाइक करें :-


Urdu Matrimony - मुस्लिम परिवार में विवाह के लिए अच्छे खानदानी रिश्तें ढूंढे - फ्री रजिस्टर करें

कमेंट ज़रूर करें